मंडला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। विश्व प्रसिद्घ कान्हा नेशनल पार्क में इन दिनों पर्यटक ब़ड़ी संख्या में मौजूद हैं, एक तरफ स्कूल खुल गए हैं तो दूसरी तरफ पार्क को बंद होने में 1 दिन शेष बचा हुआ है। उक्त पार्क वर्षाकाल के चलते बंद रहेगा। इसलिए अभी ब़ड़ी संख्या में पर्यटक कान्हा में वन्य जीवों का दीदार करने पहुंच रहे हैं। गौरतलब है कि कान्हा पार्क आज से अक्टूबर तक पर्यटकों के लिए बंद कर दिए जाते हैं। पिछले दो सालों में कोरोना महामारी के चलते अपेक्षाकृत कम पर्यटक ही कान्हा नेशनल पार्क पहुंचे थे जिसमें विदेशी सैलानियों की संख्या न के बराबर रही। वर्ष 2020-21 में कोर क्षेत्र में 15 लाख 235 देशी और 109 विदेशी पर्यटक पहंचे थे। जबकि वर्ष 2021-22 में अक्टूबर से अब तक की स्थिति में एक लाख 62 हजार 159 देशी और 2626 विदेशी पर्यटकों ने कान्हा नेशनल पार्क पहुंचकर वन्य जीवों का दीदार किया है।

छुट्टियों में ब़ढ़ जाती है पर्यटकों की संख्या

वैसे तो कान्हा नेशनल पार्क खुलते ही पर्यटकों का पहुंचना शुरू हो जाता है लेकिन खासतौर पर यहां नए साल का स्वागत करने एवं छुट्टियों के समय ज्यादा भी़ड़ नजर आती है, दिसम्बर 2021 में यहां पर्यटकों की संख्या में 24,580 तक पहुंच गई थी जो इस सत्र में कान्हा पार्क खुलने से लेकर अब तक की स्थिति में सबसे ज्यादा है।

विदेशी भी पहुंचे

कोरोना महामारी के चलते देश में विदेशी पर्यटकों की एंट्री में रोक लगा दी गई थी, जो लोग आ भी रहे थे उन्हें कई तरह से जांच उपरांत ही एंट्री दी जा रही थी। कोरोना काल 2020-21 में जुलाई 2020 से जुलाई 2021 तक मात्र 109 विदेशी सैलानी कान्हा पार्क के कोर क्षेत्र घूमने पहुंचे थे। जबकि इस बार कोरोना की रोक-टोक कम होने से जुलाई 2021 से जून 2022 तक 26 सौ 43 विदेशी पर्यटक कान्हा पार्क भ्रमण के लिए पहुंचे।

खुले रहेंगे बफर जोन

वर्षाकाल के दौरान भले कोर जोन पर्यटकों के लिए बंद कर दिया जाता है लेकिन बफर जोन में पर्यटक जाकर वन्यजीवों को देख सकते हैं। हालांकि कोर क्षेत्र की अपेक्षा यहां विशेष रूप से बाघ कम ही दिखाई देते हैं, फिर भी कई पर्यटक बफर जोन में भी घूमने में रूचि दिखाते हैं। कान्हा टाइगर रिजर्व से मिली जानकारी अनुसार वर्ष 2020-21 में बफर जोन में कुल 19395 देशी पर्यटक पहुंचे थे वहीं कोरोना महामारी के चलते विदेशी पर्यटकों के लिए कई तरह की बंदिशों के कारण बफर जोन में विदेशी पर्यटकों की संख्या में न के बराबर हो गई थी महज 6 विदेशी पर्यटक ही बफर जोन घूमने पहुंचे थे। लेकिन इस बार कोरोना की लगाई गई बंदिशों के समाप्त होते ही इस सत्र 2021-22 में बफर जोन में कुल 25 हजार 538 देशी और 20 विदेशी पर्यटक बफर जोन घूमने के लिए पहुंचे।

उत्साह नहीं हुआ कम

जिप्सी से कान्हा पार्क भ्रमण के लिए पर्यटकों से एक निर्धारित राशि ली जाती है जानकारी अनुसार पिछले एक जिप्सी के लिए जहां 1500 रुपये लिए जाते थे अब वहां 24 सौ रुपये लिए जा रहे हैं। यही नहीं कई बार आनलाइन टिकट फुल बताता रहा है।

चुनाव का भी असर

बता दें कि इन दिनों जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की आचार संहिता लगी हुई है जिसके कारण जून माह के अंतिम सप्ताह में पर्यटकों की संख्या में कमी देखने को मिली है हालांकि अब सफारी के शौकीन अक्टूबर माह का इंतजार करेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close