सामूहिक श्रमदान अभियान में जुट रहे हैं लोग

मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला प्रशासन व सामाजिक संगठनों के सहयोग से चल रहा शिवना शुद्धीकरण कार्य लगातार जारी है। सुबह दो घंटे सांकेतिक श्रमदान में लोग एकत्र होकर नदी को साफ करने में अपना योगदान दे रहे हैं। वहीं दिनभर पोकलेन व जेसीबी मशीन से नदी में वर्षों से जमा गाद व मिट्टी निकाली जा रही है। रविवार को भी कलेक्टर गौतमसिंह, जिला प्रशासन के कर्मचारियों व सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने मिलकर श्रमदान किया। इसके अलावा दिन भर दो पोकलेन मशीन, दो जेसीबी, चार डंपर, चार ट्रैक्टर लगाए गए। दिन भर में 60 डंपर एवं 40 ट्राली गाद शिवना से निकाली गई।

कलेक्टर गौतमसिंह ने बताया कि जल प्रबंधन एवं शुद्धीकरण का बहुत बड़ा सफल कार्य अहमदाबाद की साबरमती नदी पर किया जा चुका है। इसी तरह कार्य शिवना के तट पर भी किया जा रहा है। भगवान श्री पशुपतिनाथ के समीप बहने वाली शिवना नदी को साफ रखना हम सब का नैतिक दायित्व है। इसमें हम सभी को आगे आकर कार्य करने की आवश्यकता है। शिवना आस्था और आराधना के केंद्र के साथ बाहर से आने वाले तीर्थयात्रियों को अपनी ओर आकर्षित करें और शहर की प्रतिष्ठा एवं भगवान पशुपतिनाथ की ख्याति को फैलाएं इस दिशा में कार्य हो रहा है।

शिवना शुद्धीकरण के लिए 28 करोड़ रुपये स्वीकृत

शिवना शुद्धीकरण के लिए 28 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए है। इस राशि से शिवना शुद्धीकरण का कार्य किया जाएगा। पर्यावरण मंत्री हरदीपसिंह डंग ने बताया कि शिवना शुद्धीकरण के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में लगातार प्रयास किए जा रहे थे। उनकी स्वयं की चर्चा केंद्रीय मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत से हुई थी। शेखावत ने सकारात्मक परिणाम का भरोसा दिलाया था जो 28 करोड़ रुपये की स्वीकृति के रूप में सामने आया है। शुद्ध शिवना हम सभी का सपना है और इस सपने को साकार करने का समय आ गया है। शिवना शुद्धीकरण के लिए वृहद योजना बनाकर इस पर कार्य किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close