मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना वैक्सीन के लिए लोगों में मची जल्दबाजी प्रशासन के लिए भारी पड़ रही है। केन्द्रों पर वैक्सीन की खुराक निर्धारित संख्या में पहुंच रहे है, लेकिन वैक्सीन लगवाने के लिए संख्या अधिक आ रही है। इसी के कारण केन्द्रों पर जद्दोजहद हो रही है। सोमवार को नूतन स्कूल में वैक्सीन के 300 खुराक लगाए जाना निर्धारित था, लेकिन यहां वैक्सीन के लिए अधिक संख्या में लोग पहुंच गए। इसके कारण कोरोना से बचाव के लिए सबसे आवश्यक शारीरिक दूरी का पालन बिलकुल नहीं हुआ, वैक्सीन लगवाने और पंजीयन के काउंटर तक पर भीड़ रही। सुबह सीएमएचओ यहां पर पहुंचे यहां लगी भीड़ को देखकर सीएमएचओ भी चौंक गए, यहां पर स्थिति को संभालने के लिए पुलिस को बुलाई। इसी तरह जिले के अन्य वैक्सीन सेंटरों पर भी भीड़ के कारण अव्यवस्थाएं और कोरोना का खतरा भी मंडरा रहा है।

कोरोना की खुराक कम मिलने के कारण जिले में वैक्सीनेशन बहुत ही धीमी गति में चल रहा है लेकिन कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक लोगों में वैक्सीन जल्द लगवाने की होड़ मची हुई है। यहीं कारण वैक्सीन सेंटरों पर जितनी खुराक पहुंच रही है उससे ज्यादा लोग आ रहे है। सोमवार को जिला मुख्यालय पर स्थित नूतन स्कूल में 18 प्लस एवं 45 प्लस आयु के लोगों को पहला एवं दूसरा डोज के लिए 300 खुराक लगाए जाना निर्धारित था। 45 प्लस वालों को लेकर आ रहे युवाओं को भी वैक्सीन लगाई जा रही है। इसी के चलते सेंटर पर भीड़ उमड़ रही है। सोमवार को नूतन स्कूल में वैक्सीन के लिए लोगों की लंबी कतारें लगी, यहां मौजूद स्टाफ कोरोना नियमों का पालन करवाने का सिर्फ प्रयास ही करता रहा लेकिन लोग मानने को तैयार ही नहीं थे। भीड़ अधिक होने की सूचना पर सीएमएचओ डा. एके राठौर भी यहां पहुंचे। भीड़ के कारण हो रही अव्यवस्थाओं को देख उन्होंने पुलिस को बुलाया। बाद में पुलिस ने आकर व्यवस्था संभाली, लेकिन शारीरिक दूरी का पालन सुबह से शाम तक नहीं हो पाया। जिले के सभी केन्द्रों पर यहीं स्थिति रही। खुराक कम और लोगों की संख्या अधिक रही। कई जगह लोग टोकन के लिए परेशान हुए।

रात तीन बजे पहुंचे युवा, फिर भी नहीं मिला टोकन

कुचड़ौद। धुंधड़का में शासकीय विद्यालय भवन में कोरोना का टीकाकरण चल रहा है। यहां पर वैक्सीन के लगवाने के लिए लोगों को जद्दोजहद करना पड़ रही है। लोग वैक्सीन लगवाने के लिए रात में ही वैक्सीन सेंटर परिसर में बने गोलों में पत्थर रखकर नंबर लगा रहे हैं। इसके कारण आसपास के गांवों से आने वाले लोगों को परेशानी हो रही है। सोमवार सुबह ग्राम बाबरेचा निवासी कुछ युवक वैक्सीनेशन सेंटर पर रात तीन बजे ही पहुंच गए, युवक कमलेश कुमावत एवं बालकृष्ण कुमावत निवासी बाबरेचा ने बताया कि हम रात तीन बजे टीकाकरण सेंटर पर पहुंच गए थे। लेकिन यहां पर शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए जो गोले बनाए गए हैं, उनमें पत्थर रखे हुए थे, हमने पत्थर उठाकर हम वहां बैठ गए लेकिन सुबह छह बजे बजे स्थानीय रहवासी महिलाओं ने आकर हमसे कहा कि तुमने पत्थर क्यों हटाए। हमने कल रात से ही यहां पत्थर रखें हुए थे, इसलिए तुम यहां से हट जाओ। इन युवाओं ने कहा कि हम रात तीन बजे से यहां आए हुए है। इसी बात को लेकर विवाद की स्थिति भी बन गई। बाबरेचा से आए युवा कमलेश कुमावत, बालकृष्ण कुमावत, रायसिंह सिसौदिया, दशरथ हरसिया, मांगीलाल शर्मा, मुकेश कुमावत, परमेश्वर कुमावत, रामप्रताप सनेचा, ललित कुमावत, कवरलाल कुमावत, प्रहलाद कुमावत, भूपेंद्र लोधा, धर्मेंद्र राठौड़ ने बताया कि वैक्सीन सेंटर पर हम रात तीन बजे से लाइन में लग रहे हैं लेकिन टोकन हमें न देते हुए जिन लोगों ने पत्थर रखकर नंबर लगाए हैं उन्हें पहले टोकन दिए जा रहे है। इस व्यवस्था पर युवाओं ने नाराजगी जताई।

-वैक्सीन सेंटर पर किसी तरह की अव्यवस्था है तो बीएमओ से चर्चा कर व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। जिस समय लाइन में लोग लगेंगे उसी समय टोकन दिलाया जाएगा पत्थर रखने वाले को टोकन नहीं दिए जाएंगे।-सुनील डावर नायब तहसीलदार धुंधडका

-ऐसी कोई बात नहीं है, जो लाइन में लगे हैं उन्हीं को टोकन दिए जा रहे हैं। लाइन लगवाना पुलिस प्रशासन एवं नायब तहसीलदार, पटवारी का काम है।-डा. सतीश गौड़ बीएमओ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धुंधड़का

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags