मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मंदसौर जिले में कोविड-19 की कोविशील्ड वैक्सीन के 7740 डोज पहुंच गए है। अब वैक्सीन भंडार गृह में पुलिस के पहरे में हैं। भोपाल से 16 जनवरी से वैक्सीनेशन चालू करने को लेकर प्लानिंग आ गई है। अभी पहले सप्ताह में फिलहाल जिला अस्पताल व सिद्धि विनायक मल्टीस्पेशिलिटी हास्पिटल में ही टीकाकरण होगा। वहीं जिले में रजिस्टर्ड किये गए 6343 फ्रंटलाइन वर्करों में से अभी 521 को ही टीके का पहला डोज लगाने को कहा गया है। सबसे पहले टीका वरिष्ठ निजी चिकित्सक और सफाईकर्मी को लगाने को कहा गया है। डॉ. सुरेश जैन को सबसे पहले टीके का डोज लगाया जा सकता है।

मंदसौर जिले में फिलहाल दो सेंटर पर ही कोविड-19 का टीकाकरण होगा। इसमें भी पहले सप्ताह में 16 जनवरी से लगातार चार दिन तक अभियान चलेगा। जिला अस्पताल में 100 लोग प्रतिदिन के हिसाब से चार दिन में 400 फ्रंटलाइन वर्कर को टीका लगाया जाएगा। वहीं सिद्धि विनायक हॉस्पिटल में 121 लोगों को टीका लगेगा। अभी तक भोपाल से पहले सप्ताह की जानकारी भेजी है उसकी आधार पर यहां की टीम काम कर रही है। दूसरे, तीसरे व चौथे सप्ताह की अलग-अलग जानकारी भोपाल से आएगी उसी अनुसार आगे के चरण चलेंगे। जिले में स्वास्थ्य विभाग ने 20 सेंटर पर टीकाकरण करने की तैयारी पूरी कर रखी है पर अभी केवल 2 जगह ही टीकाकरण करने की अनुमति मिली है।

जहां सारी सुविधा, वहीं होगा टीकाकरण

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों की माने तो अभी टीके का पहला चरण शुरू होना है और लोगों पर इसका असर भी अब ही पता चलेगा। इसलिए किसी भी विपरीत परिस्थिति से बचने के लिए शुरूआत में केवल दो सर्वसुविधायुक्त अस्पताल में ही टीका लगाया जा रहा है। जहां सभी तरह से आकस्मिंक उपचार किया जा सकता है।

जिले में पहले चरण के लिए वैक्सीन के 7740 डोज मिले हैं। इसके साथ ही पहले सप्ताह में 521 लोगों को टीका लगाने की अनुमति आई है। सबसे पहले वरिष्ठ निजी चिकित्सक व सफाईकर्मी को लगाना है। निजी चिकित्सक में डॉ. सुरेश जैन को पहला टीका लगा सकते हैं।

जिला अस्पताल में चार दिन में 400 लोगों को टीका लगाएंगे। सिद्धि विनायक में 121 लोगों को टीका लगाएंगे। अभी वैक्सीन भंडार गृह पर एक चार की गार्ड का पहरा लगा है।- डॉ. केएल राठौर, सीएमएचओ।

मंदसौर वैक्सीन अपडेट

मंदसौर में कुल डोज मिले- 7740 पहले चरण के लिए रजिस्टर्ड- 6343

पहले सप्ताह में वैक्सीन लगेगा- 521

कुल कितने सेंटर होगा वैकसीनेशन-2

सवाल जो सबके जेहन में हैं

1.सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन किन्हें दी जाएगी?

उत्तर-सरकार ने उच्च जोखिम वाले समूहों को प्राथमिकता पर वैक्सीनेशन के लिए चिन्हित किया है। पहले चरण में फ्रंटलाइन वर्कर(स्वास्थ्य, आंगनबाड़ी, आशा, ऊषा कार्यकर्ता) शामिल हैं दूसरे चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति तथा वे लोग जो पहले से ही किसी रोग से ग्रसित हैं उनकों टीके लगेंगे। इसके बाद वैक्सीन को अन्य सभी रुरतमंदों को उपलब्ध कराया जाएगा

2.क्या यह वैक्सीन सुरक्षित होगी क्योंकि इसे बहुत कम समय में बनाया गया है?

उत्तर- संपूर्ण सुरक्षा और प्रभाव के डेटा की जांच के आधार पर मंजूरी के बाद ही नियामक निकायों द्वारा वैक्सीन लगाई जा रही है।

3.क्या वैक्सीन लेना अनिवार्य है?

उत्तर - कोरोना के लिए वैक्सीनेशन स्वैच्छिक है। हालांकि स्वयं की सुरक्षा और बीमारी के प्रसार को सीमित करने के लिए कोरोना वैक्सीन की पूरी खुराक आवश्यक है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस