सुवासरा (नईदुनिया न्यूज)। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर मंदसौर जिले के प्रमुख रेलवे स्टेशन सुवासरा में कई ट्रेनों के स्टापेज चालू करने की मांग को लेकर युवक कांग्रेस के तत्वावधान में तीन दिन से जनजागरण प्रभात फेरी निकाली जा रही थी। इसके बाद शनिवार को रेलवे स्टेशन परिसर पर धरना दिया गया। इसमें कांग्रेस जिलाध्यक्ष नवकृष्ण पाटिल सहित सीतामऊ, शामगढ़ के कांग्रेस कार्यकर्ता भी शामिल हुए। दोप. 12 बजे से शाम 4 बजे तक ढोल मजीरे के साथ ट्रेनों के स्टापेज की मांग को नारेबाजी की गई। इस दौरान केंद्र सरकार, सांसद सुधीर गुप्ता, प्रदेश के पर्यावरण मंत्री हरदीपसिंह डंग के विरुद्ध भी नारेबाजी की गई। जिला कांग्रेस अध्यक्ष नवकृष्ण पाटिल ने कहा कि नई ट्रेनों के स्टापेज नहीं किए जाएं पर पुरानी ट्रेनों के तो यथावत रखे जाए। कोरोना काल खत्म हो गया हैं सारी सुविधाएं चालू हो गई है। लेकिन स्टापेज को लेकर सरकार कोरोना का ढिंढोरा पीट रही है। जबकि इससे जनजीवन पर प्रभाव पड़ रहा है क्षेत्र का व्यापार ठप हो गया है और विकास रुक गया है। राकेश पाटीदार ने कहा कि मंत्री विकास के नाम पर सिर्फ जुमलेबाजी कर रहा है ट्रेनों के स्टापेज नहीं होने से सारे व्यापार व्यवसाय बंद है। रेल सुविधाएं बढ़ाने को लेकर दिए गए धरने का समर्थन शिवसेना पदाधिकारियों ने भी किया। धरने के बाद बाद पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर जोन के महाप्रबंधक व कोटा डीआरएम के नाम एक ज्ञापन स्टेशन अधीक्षक आरआर सोलंकी को भी सौंपा गया। इसमें चेतावनी दी गई कि सात दिनों में सुवासरा स्टेशन पर 7 ट्रेनों का स्टापेज नहीं किया गया तो जनता के साथ कांग्रेस के नेतृत्व में पटरी पर बैठ कर आंदोलन किया जाएगा। धरने को लेकर रेलवे प्रशासन द्वारा जीआरपी, आरपीएफ, स्थानीय पुलिस और जीआरपी इंदौर के पुलिस जवान भी बुलाए थे। धरने में ब्लाक अध्यक्ष राजू पाटीदार, रामगोपाल सोनी, पीरुलाल डपकारा, राजेंद्र सोलंकी, पारस जैन बादशाह, राहुल जैन, रामसिंह मेहर, श्यामसिंह चौहान लकवा, गोवर्धनलाल बड़ोलिया रुनीजा, संग्रामसिंह कुरावन, पंकज मुजावदिया शामगढ़, सौदानसिंह खेजड़िया भूप, वल्लभप्रसाद देवड़ा, ओमप्रकाश फरक्या सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local