सुवासरा (नईदुनिया न्यूज)। नगर सहित पूरे जिले में डेंगू तेजी से फैल रहा है। कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग के गृहनगर में ही शासकीय और निजी अस्पतालों में प्रतिदिन डेंगू के करीब 10 मरीज आ रहे हैं। गुरुवार को चार मरीज रेफर किए गए। इसके बावजूद सुवासरा में सफाई व्यवस्था के बुरे हाल हैं। मंत्री से लेकर अधिकारी डेंगू के नाम पर निकाली जाने वाली जागरूकता रैलियों और बैठकों में व्यस्त हैं। वहीं दूसरी तरफ जगह-जगह गंदगी के ढेर और भरे हुए पानी में लार्वा पनप रहा है। चिकित्सीय सूत्रों की मानें तो सुवासरा सहित जिले में चिकनगुनिया बुखार ने भी दस्तक दे दी है, लेकिन सरकारी आंकड़ों में इसे शामिल नहीं किया जा रहा है।

जगह-जगह जलजमाव पनप रहा लार्वा

डेंगू की रोकथाम के लिए शासन ने पूरे प्रदेश में बुधवार को जागरूकता रैली निकालकर जनता को सावधानी रखने का संदेश दिया। अभी नगर में कई स्थानों पर गंदगी और पानी का जमाव पसरा है, लेकिन सुवासरा में जिम्मेदार पदों पर बैठे अधिकारियों ने केवल रैली निकालकर और फ़ोटो खिंचवाकर इतिश्री कर ली। ना तो लार्वा नष्ट किया गया और न ही दवाइयों का छिड़काव किया गया। नगर में कई जगह साफ-सफाई भी नहीं हो रही है।

कई बार मंत्री डंग से कहा, पर उन्होंने किया अनसुना

करीब ढाई माह पहले वार्ड 5 और 6 की 25 से 30 महिलाओं ने मंत्री डंग को घेरकर समस्या बताई थी। महिलाओं ने डंग से कहा था कि क्षेत्र में वर्षो से एक बड़े गढ्ढे में कीचड़ और गंदा पानी भरा रहता है, लेकिन इसकी सफाई की कोई व्यवस्था अभी तक नहीं की गई है। इस गड्ढे में सैकड़ों मच्छर पनप रहे हैं। पानी सड़ चुका है, बदबू मार रहा है। महिलाओं की बात सुनकर मंत्री डंग ने जल्द निराकरण करने की बात कही थी और वार्ड से जाते ही समस्या को अनसुना कर दिया। 3 माह बाद भी हालत जस के तस ही है। यही हाल वार्ड 3 के अंतर्गत जीनिंग फैक्टरी परिसर का है। यहां भी बारिश का जलजमाव है, लेकिन इसकी सफाई का काम नही हुआ।

तहसीलदार-सीएमओ भी नहीं ले रहे सुध

वर्तमान में नगर परिषद में प्रशासक के रूप में तहसीलदार पदस्थ है। हालत यह है कि तहसीलदार और सीएमओ ने अब तक नगर के वार्डों में एक बार भी निरीक्षण नहीं किया है। लोगों की सफाई संबंधी शिकायतों को भी अनदेखा किया जा रहा है। निजी अस्पताल के डा. रेवाशंकर जोहरी के अनुसार 5-6 केस प्रतिदिन डेंगू के आ रहे हैं। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मेडिकल आफिसर डा. स्नेहिल जैन ने बताया कि अभी मौसमी बीमारी सर्दी, खांसी, सामान्य बुखार के साथ डेंगू बुखार के भी मरीज मिल रहे हैं। 4 लोगों को रैफर किया गया है

--

नगर में यदि जहां कहीं भी गंदगी या जलभराव जैसी कोई स्थिति है तो संबंधित अधिकारी से बात कर सफाई व्यवस्था करवाई जाएगी।

-संदीप शिवा

एसडीएम, सीतामऊ

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local