Hardeep Singh Dang : मंदसौर। गुरुवार को भोपाल में हुए मंत्रिमंडल के गठन में मंदसौर संसदीय क्षेत्र को तीन कैबिनेट मंत्री मिले हैं। जिनमें दो सीनियर विधायक जगदीश देवड़ा मल्हारगढ़ और ओमप्रकाश सखलेचा जावद शामिल है। वही कांग्रेस की तरफ से सबसे पहले इस्तीफा देने वाले सुवासरा के पूर्व विधायक हरदीपसिंह डंग भी केबिनेट मंत्री बनाए गए है।

पंच से शुरू हुआ सफर केबिनेट तक पहुंचा

सुवासरा के पूर्व विधायक हरदीपसिंह डंग ने कांग्रेस से बगावत कर भाजपा सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पूर्व विधायक का राजनीतिक सफर सुवासरा में पंच से शुरू हुआ था फिर सरपंच बनकर भी सुवासरा में काफी काम किए। उसके बाद जिपं सदस्य बने, युवक कांग्रेस में पदाधिकारी रहे। 2008 के विस चुनाव में कांग्रेस ने उनको प्रत्याशी बनाया था।पर वे भाजपा के राधेश्याम पाटीदार से चुनाव हार गए। 2013 औ 2018 के विस चुनाव में ने भाजपा के राधेश्याम पाटीदार को हराकर डंग विधायक बने थे। अब फिर उप चुनाव में डंग भाजपा से चुनाव मैदान में उतरेंगे।

छह बार के विधायक है देवड़ा

मल्हारगढ़ से विधायक जगदीश देवड़ा छटी बार के विधायक है वे 1990,1993, 2003, 2008, 2013, 2018 में विधायक रहे हैं। 2003 से 2013 तक गृह, परिवहन, श्रम सहित अन्य विभागों में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं। अब कौनसा विभाग मिलता है इस पर नजर रहेगी।

लंबे इंतजार के बाद आई सखलेचा की बारी

जावद से चौथी बार के विधायक ओमप्रकाश सखलेचा 2003 से लगातार चुनाव जीत रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीरेंद्रकुमार सखलेचा के पुत्र होने के बाद भी राजनीतिक समीकरणों के चलते वे हमेशा मंत्री पद से दूर ही रहे। इस बार पटवा खेमे के कमजोर होने और दिल्ली के तगड़े समर्थन के चलते सखलेचा केबिनेट मंत्री बने हैं।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस