नईदुनिया आपके द्वार

वार्ड-33 (नेहरू वार्ड)

अशोक नगर में सड़कें नहीं, नालियां भी कच्ची

पतासा गली में सुलभ शौचालय के आसपास गंदगी का साम्राज्य

मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। वार्ड 33 क्षेत्रफल और मतदाताओं की संख्या के मान से शहर के बड़े वार्डों में गिना जाता है। धानमंडी पतासा गली से नाका नंबर 10 तक फैले इस वार्ड में खानपुरा क्षेत्र के कुछ पुराने व रामघाट के आसपास क्षेत्र की नई कालोनियों भी इस वार्ड में हैं। रामघाट बैराज, धानमंडी पंप हाउस, गोपालकृष्ण गौशाला और सत्संग भवन, अंजुमन भवन भी इस वार्ड की पहचान है। पुराने व नए क्षेत्रों के इस वार्ड में जिस तेजी से नई कालोनियां बढ़ी है उस गति से विकास कार्य नहीं हुए हैं। अभी भी वार्ड की कुछ कालोनियों में सड़कें नहीं है। पुराने क्षेत्रों में सफाई की समस्या से रहवासी परेशान है। वर्षा शुरु हो चुकी है लेकिन पंप हाउस के आसपास भी बेहतर सफाई नहीं हुई है।

वार्ड 33 में खानपुरा, धानमंडी और रामघाट के आसपास के करीब 12 दर्जन क्षेत्र व कुछ कालोनियां शामिल है। इस वार्ड में 3744 मतदाता है। सबसे ज्यादा मतदाताओं की संख्या वाले टाप-10 वार्डों में हैं लेकिन मूलभूत सुविधाओं को लेकर रहवासी परेशान है। बुधवार को नईदुनिया टीम वार्ड 33 में मतदाताओं के द्वार पर पहुंची। रहवासियों ने मुखर होकर अपनी बात कही। अशोक नगर में पक्की सड़कें नहीं है यहां नाला भी कच्चा है और गदंगी भी हो रही है। रहवासियों का कहना है कि वर्षा के पानी की उचित निकासी नहीं होने से बाढ़ का पानी भर जाता है। पतासा गली में त्रिशूलीमाता मंदिर के समीप मार्ग पर कचरे के ढेर लगा हुआ है। पतासा गली क्षेत्र में ही सुलभ शौचालय के आसपास भी गदंगी व गाजरघास हो रही है। स्थिति यह है कि शौचालय तक आने-जाने का रास्ता ही नहीं बचा है। सत्संग भवन के समीप गली की सड़क भी उखड़ रही है। रहवासियों का कहना है कि इन समस्याओं का समाधान होना चाहिए।

एक नजर

वार्ड - 33 (नेहरू वार्ड)

मतदाता - 3744(पुरुष 1856, महिला 1888)

वार्ड का क्षेत्र - बरगुंडा गली (स्कूल वाली लाइन), प्रतापगढ़ रोड (सत्संग भवन वाली पूरी लाइन), पतासा गली, मिर्ची गली, सरदारजी की बगीची, सत्संग भवन के पीछे, झुग्गी झोपड़ी, जटिया मोहल्ला-2, अशोक नगर, रामघाट के सामने झुग्गी झोपड़ी, नारायण नगर (रामघाट के सामने), रामघाट परिसर, शालीमार नगर, नाका नं. 10 गौशाला, बाकड़ी फार्म, महादेव घाट, सामुदायिक भवन वाली लाइन, प्रतापगढ़ रोड पर खानपुरा में अंजुमन से तरुण खिंची के मकान तक।

-अशोक नगर में नालिया और सड़कें खराब हो रही है इस कारण बहुत परेशानी होती है। वर्षा होते ही परेशानियां बढ़ जाती है। वर्षा के पानी की उचित निकासी नहीं होने से पानी घरों में घुस रहा है। इस समस्या का समाधान होना चाहिए।

-मो. कासिम, अशोक नगर

-धानमंडी पंप हाउस के समीप स्थित नाले की ठीक से सफाई नहीं होती है। नाले में गाद जमा है। इस कारण वर्षा के पानी की निकासी नहीं हो पाती है और वर्षा का हमारे घरों के सामने पानी गली में भर जाता है। पतासा गली में शौचालय के आसपास भी गंदगी रहती है।

-दीपा गोस्वामी, पतासा गली

-खाकी कुआं क्षेत्र में कचरा पड़ा रहता है। क्षेत्र की कई गलियों में सड़कें खराब है। पंप हाउस बहुत पुराना है। इसके कारण वर्षा के पानी की निकासी में दिक्कतें होती हैं। अधिक वर्षा होने पर बाढ़ का खतरा रहता है। पानी निकासी की समस्या का स्थायी समाधान होना चाहिए।

-प्रेमचंद साहू, खानपुरा

आमने-सामने

पार्षद ने नहीं कराए कोई काम

-वार्ड में विकास नहीं विकास का इंतजार ही हुआ है। जहां कहीं विकास हुआ है वह भी विधायक निधि से ही हुए है। नारायण नगर, अशोक नगर में सड़कें ही नहीं है। वर्षा के दिनों में रहवासियों को बहुत परेशानी होती है। अनेक समस्याएं है। जितने काम होना चाहिए वह नहीं हुआ है।

- पूजा आसेरी, पिछले चुनाव में पराजित प्रत्याशी

वार्ड में खूब काम हुआ है

-वार्ड में सड़कों का निर्माण हुआ है नालियां भी बनाई गई। कई जगह नालों का निर्माण हुआ है। पानी की निकासी की व्यवस्था को बेहतर किया गया है। लगातार विकास के कार्य किए जा रहे हैं। पेयजल वितरण, प्रकाश व्यवस्था सहित सभी व्यवस्थाएं बेहतर है। हमारा सदैव प्रयास यहीं रहा है कि वार्ड में अधिक से अधिक विकास कार्य हो।

- दीपिका खिंची, पूर्व पार्षद

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close