मंदसौर, नईदुनिया न्यूज। यहां इंदिरा नगर निवासी एक नाबालिग के साथ उसके मुंहबोले मामा ने 9 किमी दूर एक खेत पर बने खंडहरनुमा मकान में ले जाकर दुष्कर्म किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर घर छोड़ गया। मां के घर आने पर नाबालिग ने पूरी घटना बताई। वायडी नगर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है। आरोपित अभी फरार है।

वायडी नगर टीआई विनोदसिंह कुशवाह ने बताया कि इंदिरा नगर निवासी 15 वर्षीय किशोरी के पिता नहीं है। मां शनिवार को चित्तौडगढ़ के पास कपासन दरगाह पर धार्मिक कार्य से गई थी। इस दौरान किशोरी घर अकेली थी। रात 11.30 से 12 के बीच उसका मुंहबोला मामा गुुड्डू उर्फ शहजाद पिता रशीद लक्कड़ निवासी मुल्तानपुरा घर पहुंचा। गुड्डु ने उससे कहा कि रेलवे स्टेशन पर तुम्हारी मम्मी आ गई है, लेने चलना है। फिर वह किशोरी को बाइक से रेलवे स्टेशन तरफ जाने के बजाय रेवास देवड़ा रोड पर लगभग 9 किमी दूर देव डुंगरी माताजी के आसपास जंगल में ले गया।

वहां एक खेत पर बने खंडहरनुमा झोपड़ी में दुष्कर्म किया। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर रात में घर छोड़ गया। रविवार दोपहर किशोरी की मां कपासन से मंदसौर आई। तब पीड़िता ने घटना बताई। इसके बाद पीड़िता मां एवं पड़ोस की एक महिला के साथ वायडी नगर थाने पहुंची और मामले में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने आरोपित गुड्डू उर्फ शहजाद के विरुद्ध भादसं की धारा 376 एवं पॉक्सो एक्ट की विभिन्ना धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपित की तलाश में मुल्तानपुरा सहित अन्य क्षेत्रों में खोजबीन की। रात तक आरोपित नहीं मिल पाया था।

आरोपित के हिमायती पहुंच गए, कहा निकाह करने को तैयार

दुष्कर्म के बाद जब पीड़िता वायडी नगर थाने पहुंची तो वहां आरोपित की तरफ से पैरवी करने उसके परिजन भी पहुंच गए और पीड़िता की मां से कहा कि आरोपित नाबालिग से निकाह करने को तैयार है और जीवनभर साथ भी रखेगा। हालांकि मां ने उनकी बात नहीं सुनकर प्रकरण दर्ज कराया।

प्रकरण दर्ज किया है

आरोपित पीड़िता का मुंहबोला मामा है। रात में मम्मी को स्टेशन से लाने का बहाना बनाकर देवडुंगरी माताजी क्षेत्र में एक खेत पर ले गया वहां पर उसके साथ गलत काम किया। मामले में आरोपित के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। उसकी तलाश की जा रही है। -विनोदसिंह कुशवाह, टीआई, वायडी नगर