यातायात पुलिस ने की वाहनों की जांच, क्षमता से अधिक बच्चों को बिठाने वालों पर की कार्रवाई

12 एमडीएस-54 के प्शन- यातायात पुलिस कर रही जांच, मुंह पर कपड़ा बांधकर चलने वाले लोगों को भी रोका जा रहा।

12 एमडीएस-55 के प्शन- पुलिस ने अल्कोहल यंत्र से भी जांच की, ताकि शराब पीकर वाहन चलाने वालों का पता चल सके ।

मंदसौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शनिवार को यातायात पुलिस ने नगर में अलग-अलग पॉइंट लगाकर वाहनों की जांच की। इस दौरान पुलिस ने एक मैजिक एवं चार ऑटो रोके, जिनमें क्षमता से अधिक बच्चों को बिठाया गया था। मैजिक वाहन में 16 बच्चे बैठे थे, यातायात प्रभारी ने चालक से कहा कि बच्चों की जान की परवाह नहीं है क्या, तो चालक ने कह दिया इतने कम बच्चे ही बिठाए हैं। कार्रवाई के साथ ही वाहन चालकों को समझाइश दी गई। इसके अलावा बीपीएल चौराहा पॉइंट पर पुलिस शराब पीकर वाहन चलाने की शंका में वाहन चालकों की अल्कोहल यंत्र से भी जांच की।

मंदसौर में हुए गोलीकांड के बाद पुलिस बेहद सतर्क हो गई है। शनिवार को भी नगरभर में कई पॉइंटों पर पुलिस ने वाहन चैकिंग की। बीपीएल चौराहे पर यातायात पुलिस ने तीन सवारी बाइक, बिना नंबर वाहनों के साथ ही, चार पहिया वाहन में सीट बेल्ट नहीं लगाने वालों के चालान बनाए। इसके अलावा कपड़े से मुंह ढककर वाहन चलाने वालों को भी पुलिस ने रोका और कपड़े हटवाए। साथ ही शराब पीने की शंका में कुछ वाहन चालकों के मुंह में अल्कोहल यंत्र डालकर जांच भी की। इसी तरह यातायात पुलिस ने यातायात थाने के सामने स्कूली वाहनों को रोका। यातायात थाना प्रभारी धनजंय शर्मा ने बताया कि शनिवार को सेंट थॉमस स्कूल के बच्चों को क्षमता से अधिक बैठाकर ले जाते हुए पांच ऑटो एवं एक मैजिक वाहन पर को ओवरलोड पाते हुए कार्रवाई की गई। ओवरलोड होकर चलने से बच्चों की जान को खतरा होने के बावजूद ऑटो चालकों द्वारा क्षमता से अधिक बच्चे बिठाकर ले जाए जा रहे थे। पूर्व में थाना यातायात पुलिस द्वारा सभी स्कूलों में जागरूकता कार्यक्रम के दौरान स्कूल प्रबंधन, एवं बच्चों के पालको को भी इस समझाया गया था। यातायात प्रभारी शर्मा ने बताया कि कार्रवाई में ऑटो चालकों के विरुद्ध न्यायालय को कार्रवाई के लिए प्रकरण भेजा जाएगा, साथ ही संबंधित स्कूल प्रबंधन को भी नोटिस जारी कि या जाएगा।