मंदसौर। शिवना नदी दिन पर दिन फैलती जा रही जलकुंभी प्रदूषण तो बढ़ा रही है, अब जानलेवा भी हो रही है। शुक्रवार को कुछ भैंसे व गायें इसमें फंस गई। आसपास के लोगों ने चार-पांच घंटे की मेहनत के बाद मवेशियों को बाहर निकाला। शाम तक नपा अधिकारियों को मामले की जानकारी लग पाई।

शिवना में फैल रही जलकुंभी पानी को प्रदूषित करने के साथ अब मवेशियों के लिए खतरनाक साबित हो रही हैं। शुक्रवार को कलेक्टोरेट के पीछे वाले हिस्से में शिवना नदी में फैली जलकुंभी में कुछ भैंसे और गाय फंस गई। जानकारी मिलने पर नदी किनारे क्षेत्रवासियों की भीड़ लग गई। कुछ देर बाद क्षेत्र के फारुख खां, लालशाह मवेशियों की जान बचाने के लिए नदी में कूद गए। दोनों युवाओं ने क्षेत्रवासियों की सहायता से लगभग चार से पांच घंटे की मेहनत के बाद 3 भैंस व दो गाय को नदी से बाहर निकाला। क्षेत्रवासियों के अनुसार आए दिन नदी में मवेशी फंसते रहते हैं। लेकिन प्रशासन की ओर से कोई सदस्यता नहीं मिलती है। गुरुवार को भी शाम तक नपा अधिकारियों को मामले की जानकारी नहीं लग पाई।

Posted By: