Mandsaur News: भानपुरा(मंदसौर)। मंदसौर जिले की भानपुरा तहसील में इस बार रिकार्ड बारिश हुई है। लगभग 1145 मिमी बरसात होने से सभी जलस्त्रोत सतह के बाहर बह रहे हैं। साथ ही सड़क किनारे हुए गड्डे भी इस बार रपानी से लबालब हैं इससे जल जीव बाहर आ रहे हैं। ऐसी ही एक घटना भानपुरा तहसील के बाबुल्दा में गत दिनों घटी। शासकीय हायरसेकंडरी स्कूल के समीप भरी हुई तलाई में लगभग 8 से 10 फ़ीट लंबा मगरमच्छ आ गया।

मगरमच्‍छ चलते हुए विद्यालय परिसर में आ गया। जिसे वहां उपस्थित लड़कों ने देखा। इसके बाद स्कूल से वन विभाग को सुचना दी गई। रेंजर कमलेश साल्वी पुरी टीम के साथ पहुंचे। रेस्क्यू आपरेशन कर मगरमच्छ को पकड़ कर जंगल में छोड़ दिया। घटना 4 अक्टूबर की है।

उल्‍लेखनीय है कि मिनी गोवा के नाम से प्रसिद्ध हुए तहसील के ग्राम कवला जो चंबल नदी के किनारे है में इस बार दो बार मगरमच्छ गांव के समीप डेरे मे आ गया था। उसे भी रेस्क्यू कर वन विभाग ने पकड़ा। बाद में गांधीसागर जलाशय में गहराई में जाकर छोड़ दिया।

इसी तरह गांधीसागर जलाशय के किनारे स्थित ग्राम पिपल्दा में भी मगरमच्छ घुस गया था। इस वर्ष भानपुरा क्षेत्र में मगरमच्छ के बाहर आने की चार से अधिक घटनाए हो गई हैं। मगरमच्छ से सबसे अधिक खतरा मिनी गोवा में है। इस स्थान पर वन विभाग व प्रशासन ने मगरमच्छ होने के बोर्ड भी लगाए व लोगों को गहराई मे जाने से रोका भी ,पर फिर भी लोगों का आना जारी रहा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local