मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मंदसौर कोतवाली पुलिस ने एक ट्रक आरजे-43 जीए-5582 से 65 किलो अफीम जब्त की है। उक्त ट्रक 3000 किलोमीटर दूर नार्थ-ईस्ट में मणिपुर राज्य के इंफाल से चला था। आरोपित बड़ा शातिर है। उसने इतनी बड़ी मात्रा में अफीम की तस्करी के लिए ट्रक में स्कीम बनाई थी और उसमें पांच-पांच किलो के 13 पैकेट बनाकर अफीम भरी थी।

ट्रक में बांस भरे हुए थे, ताकि किसी को शंका भी हो सके, लेकिन कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना के बाद इस ट्रक से अफीम जब्त कर ली। गिरफ्तार आरोपित यह अफीम जोधपुर ले जा रहा था। अब पुलिस आरोपित से मामले में पूछताछ कर रही है।

इसमें अभी तक पुलिस को पता चला है कि उक्त आरोपित 2019 में दलौदा में कार से डोडाचूरा जब्ती में भी शामिल था। आरोपित छह राज्यों में तस्करी कर चुका है।

इस पूरे मामले का पर्दाफाश रविवार को पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने पत्रकार वार्ता में किया। उन्होंने बताया कि आरोपित श्रवणकुमार विश्नोई निवासी जंभेश्वर नगर कांचबनियों की ढाणी लोहावट थाना लोहावट जिला जोधपुर (राजस्थान) को गिरफ्तार किया।

आरोपित पर कोतवाली थाने में धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट में प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार आरोपित बहुत शातिर है, उसने उक्त जब्त ट्रक को मादक पदार्थ की तस्करी के लिए ही बनवाया था। आरोपित इसी ट्रक से पहले भी तस्करी कर चुका है। ट्रक में स्पेशल केबिन, केबिन की छत, और डीजल टैंक के पास तीन से चार अलग-अलग स्कीम बनवा रखे थे।

नार्थ इस्ट क्षेत्र से अफीम लाकर राजस्थान में बेचता था आरोपित

आरोपित श्रवणकुमार ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह कई वर्षों से कई बार नार्थ-ईस्ट क्षेत्र से अवैध रूप से भारी मात्रा मे अफीम लाकर राजस्थान में बेचने का धंधा करता रहा है, जिस ट्रक से अफीम लाई जा रही थी, वह भी श्रवणकुमार का ही है।

आरोपित पूर्व में भी उत्तर-पूर्व से अलग-अलग मात्रा में स्कीम बनाकर अफीम लाता रहा है। वर्ष 2019 में एक कार से थाना दलौदा पुलिस ने डोडाचूरा पकड़ा था, तब आरोपित श्रवणकुमार मौके से फरार हो गया था। कुछ दिनों पहले पिपलियामंडी पुलिस ने उत्तर-पूर्व भारत से अवैध रूप से लाई जा रही डेढ़ किलो स्मैक भी इसी प्रकार ट्रक में स्कीम बनाकर रखी हुई पकड़ी थी।

ट्रक आठ राज्यों से गुजर चुका था

एसपी सुजानिया के अनुसार यह भी पता चला है कि क्षेत्र के कई तस्कर नार्थ-ईस्ट में संगठित गिरोह बनाकर सस्ते दामों पर अफीम और क्रूड खरीदकर दो से तीन गुना दाम पर क्षेत्र में सप्लाई कर रहे हैं। उत्तर-पूर्व के क्षेत्र में वर्षभर आसानी से अफीम उपलब्ध हो जाती और आवश्यक वस्तुओं के व्यापार की आड़ में इसकी तस्करी की जा रही है।

पिछले कुछ दिनों में इस तरह की चार गाड़ियां पुलिस द्वारा जब्त की गई हैं। पूछताछ में अन्य तथ्य मिलने की संभावना है। जब्त की गई अफीम की अंतरराष्ट्रीय कीमत छह करोड़ पचास लाख रुपये बताई गई है। आरोपित यह ट्रक आठ राज्यों से लेकर मंदसौर तक आ गया था, यहां मंदसौर पुलिस ने पकड़ लिया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close