Mandsaur News: मंदसौर/शामगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रबी सीजन में बोवनी व पहली सिंचाई के बाद से ही किसान खाद के लिए कतार में खड़ा हुआ है। खाद वितरण केंद्रों पर किसानों को पर्याप्त खाद नहीं मिल रहा है। अधिकारी बार-बार दावा कर रहे हैं कि जिले में पर्याप्त खाद है, लेकिन किसानों को खाद के लिए हो रही परेशानी इस दावे की हकीकत को बयां कर रही है। समय पर खाद नहीं मिलने से किसान नाराज हैं। गुरुवार को शामगढ़ में गरोठ रोड पर स्थित वेयरहाउस पर खाद लेने पहुंचे किसान खाद नहीं मिलने से भड़क गए और वेयरहाउस के सामने मार्ग पर जाम कर दिया। किसानों के आक्रोश की जानकारी मिलते ही एसडीएम, तहसीलदार, पुलिस बल मौके पर पहुंचा, अधिकारियों से चर्चा में किसानों ने खाद के लिए हो रही परेशानी बताई, अधिकारियों ने खाद वितरण व्यवस्था में सुधार का आश्वासन दिया इसके बाद किसान माने और मार्ग से आवागमन शुरू हो पाया।

खाद के लिए सड़क जाम

गुरुवार दोपहर में गरोठ रोड शांतिकुंज स्थित वेयरहाउस पर खाद वितरण की व्यवस्था को लेकर किसान नाराज हो गए। इस दौरान किसान वेयरहाउस से बाहर निकलकर सामने मार्ग पर पहुंचे और सड़क पर जाम लगाकर प्रदर्शन कर दिया। किसानों का कहना था कि अभी खेतों में फसलों को खाद की जरूरत है, लेकिन खाद समय पर नहीं मिल रहा है। विरोध प्रदर्शन की सूचना मिलते ही एसडीएम रविंद्र परमार, तहसीलदार प्रतिभा भाबोर व थाना प्रभारी कमलेश प्रजापति मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने किसानों से चर्चा की। किसानों ने कहा कि खाद के लिए सुबह से हम कतार में लगे हुए है दोपहर तक खाद नहीं मिल रही है, अभी खेतों में खाद की जरूरत है समय पर खाद नहीं मिला तो फसले प्रभावित होगी। तहसीलदार प्रतिभा भाबोर के द्वारा शुक्रवार से खाद वितरण व्यवस्था में एक ओर पीओएस मशीन लगाने का आश्वासन दिया इससे खाद वितरण तेजी से हो सकेगा। इस आश्वासन के बाद किसान माने और सड़क से हट गए। इसके बाद किसान खाद के लिए पुनः कतार में लग गए।

कांग्रेस नेताओं ने की बात

किसानों के प्रदर्शन की सूचना मिलने पर कांग्रेस नेता भी मौके पर पहुंच गए थे। ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष कमलेश जायसवाल, युकां अध्यक्ष पवन पाण्डेय, छात्र नेता रितिक पटेल ने यहां पहुंचकर खाद की किल्लत के कारण किसानों को रोजाना हो रही परेशानियों से अधिकारियों को अवगत करवाया।

खाद की कमी बढ़ा रही परेशानी

रबी सीजन में हर साल खाद की किल्लत सामने आती है। रबी की बोवनी के बाद से ही किसान खाद के लिए सोसायटियों व खाद वितरण केंद्रो पर पहुंच रहे है। किसानों को खाद वितरण में सहूलियत हो इसके लिए प्रशासन द्वारा नौ नगद खाद वितरण केंद्र भी बनाए, लेकिन खाद की कमी के कारण परेशानी कम नहीं हुई। पहले पीओएस मशीन में सर्वर नहीं मिलने के कारण किसान परेशान हुए, इसके बाद आधार कार्ड व पावती लेकर खाद वितरण शुरू किया गया। इसके बाद खाद अब सोसायटियों पर पर्याप्त खाद नहीं होने से किसानों को आवश्यकता जितना खाद नहीं मिलने के कारण परेशानी सामने आ रही है। हालांकि अधिकारी कह रहे हैं कि जिले में पिछले साल से अधिक खाद आ चुका है।

कई बार कर चुके हैं प्रदर्शन

- दो सप्ताह पहले किसानों ने पीओएस मशीन में सर्वर नहीं मिलने से खाद वितरण में हो रही देरी के कारण महाराणा प्रताप बस स्टैंड के समीप एमपी एग्रो कार्यालय के सामने महू-नीमच राजमार्ग पर बैठकर प्रदर्शन किया था।

- कुछ दिन पहले किसानों ने महू-नीमच राजमार्ग पर स्थित विपणन संघ के गोदाम पर भी पर्याप्त खाद नहीं मिलने को लेकर प्रदर्शन किया था।

- गुरुवार को शामगढ़ में भी खाद वितरण में देरी के कारण किसानों ने प्रदर्शन किया।

Gwalior Crime News: पीएमटी कांड में साल्वर को चार साल की सजा

Shivpuri News: जन्मदिन समारोह से पहले घर के पास लगाया बम, फोन पर कहा-सरप्राइज देंगे

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close