अनदेखी : दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए बनाई गई लिफ्ट एक साल पहले तैयार हो गई, समर्पित करने में देरी कर रही नगरपालिका

9 एमडीएस-54 : द्वितीय मंजिल की लिफ्ट बनकर तैयार। नईदुनिया

9 एमडीएस-55 : नगर पालिका में लिफ्ट का ढांचा बनकर हुआ तैयार। नईदुनिया

9 एमडीएस-56

के प्शन- लकड़ी के सहारे नगर पालिका की सिढ़ियां चढ़ता बुजुर्ग। नईदुनिया

मंदसौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नगर पालिका में सामाजिक न्याय विभाग एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा दिव्यांगजनों व बुजुर्गों की सुविधा के लिए 37.75 लाख की लागत से लिफ्ट लगाई है। दो साल तक निर्माण कार्य चला। लिफ्ट पूरी तरह से तैयार हुए करीब एक साल हो गया है। इसके बावजूद अब तक दिव्यांगों व बुजुर्गों को यह सौगात नगर पालिका समर्पित नहीं कर पाई है। तैयार हो चुकी लिफ्ट को शुरू करने के लिए दिव्यांग संगठन ने नगर पालिका पहुंचकर दो बार ज्ञापन भी सौंप दिए। प्रतिदिन दिव्यांग और बुजुर्ग सीढ़ियां चढ़ने के लिए परेशान हो रहे हैं।

दिव्यांगों और बुजुर्गों की यह सब परेशानी से नगर पालिका को कोई सरोकार नहीं है। नगर पालिका इस लिफ्ट के लोकार्पण के लिए प्रदेश सरकार के कि सी मंत्री को बुलाने का प्रयास कर रही है। लेकि न अब तक कि सी भी मंत्री का कार्यक्रम फाइनल नहीं हो पा रहा है। इसके कारण नपा में मिलने वाली यह बड़ी सौगात अटकी पड़ी है।

सामाजिक न्याय विभाग एवं अधिकारिता मंत्रालय ने दिव्यांगों व बुजुर्गों की समस्या को देखते हुए तीन वर्ष पहले लगभग 37.75 लाख रुपए की लागत से नगर पालिका में लिफ्ट लगाने की योजना बनाई थी। इसके बाद लोक निर्माण विभाग ने कार्य शुरू हुआ। करीब एक वर्ष पहले निर्माण कार्य पूरा हो गया। विद्युत, रंग-रोगन सहित अन्य कार्य भी हो गए। इसके बाद से ही लिफ्ट शुरू करने का इंतजार हो रहा है। नगर पालिका में प्रतिदिन 10 से अधिक बुजुर्ग और दिव्यांगजन पहुुंचते हैं, सीढ़ियां चढ़ने में उन्हें बेहद परेशानी होती है। सोमवार को अपने कि सी कार्य के लिए नगर पालिका पहुंचे बुजुर्ग आलम शाह को पहली मंजिल की सीढ़ियां चढ़ने में पांच मिनट लग गए। उनके पैर में प्लेट लगी हुई थी। इसी तरह अन्य बुजुर्ग और दिव्यांगजन दिनभर परेशान होते रहते हैं। सितंबर में बाढ़ पीड़ितों से मिलने आए नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धनसिंह से नगर पालिका के जिम्मेदार लिफ्ट का लोकार्पण करवाना चाह रहे थे, इसकी तैयारियां भी की गई थी। लेकि न उस समय नगर में बन रहे हालातों को देखते हुए लोकार्पण कार्यक्रम नहीं हो पाया। अब नगर पालिका लोकार्पण के लिए फिर से कि सी मंत्रीजी का इंतजार कर रही है और दूसरी तरफ दिव्यांगजन व बुजुर्गों की परेशानियों को दरिकनार रख दिया है।

दिव्यांगों एवं बुजुुर्गों को मिलेगी राहत

नगरपालिका में विभिन्न योजनाओं की जानकारी लेने, अन्य कार्यों के लिए करीबन 500 से अधिक लोग प्रतिदिन नगर पालिका में जाते हैं। इनमें 5-10 प्रश दिव्यांग व वृद्धजन हैं। तीन मंजिला नगर पालिका में सभी को सीढ़ियां चढ़कर ही जाना पड़ रहा है। सीढ़ियां चढ़ने में अक्षम होने के कारण बुजुर्ग एवं दिव्यांगजन दूसरी एवं तीसरी मंजिल पर बैठे अधिकारी-कर्मचारियों तक नहीं पहुुंच पाते हैं। लिफ्ट बनने से सबसे ज्यादा सुविधा दिव्यांगों और बुजुर्गों को होगी।

दिक्कत आती हैं

दिव्यांग परेशान हो रहे है, जल्द दीजिए सौगात

9 एमडीएस-58 : दिलीप राठौर

नगर पालिका में प्रतिदिन चार-पांच दिव्यांग अपने काम से पहुंचते ही है, कई तो चलने में असमर्थ है। इसके कारण सीढ़ियां चढ़ने में बहुत परेशानी होती है। दिव्यांगों की इसी परेशानी को दूर करने के लिए नगर पालिका में लिफ्ट बनाई गई। लेकि न यह सौगात अब तक हमें नसीब नहीं हुई है। लिफ्ट एक साल पहले बनकर तैयार हो चुकी है उसके बावजूद अब तक उसे शुरू नहीं कि या जा रहा है। इसकी वजह से दिव्यांग बंधुओं व बुजुर्गों को बहुत परेशानी आती है। लिफ्ट को जल्द ही शुरू करना चाहिए।

-दिलीप राठौर, अध्यक्ष दिव्यांग संगठन

दिव्यांग संगठन ने दो बार ज्ञापन भी दिया

9 एमडीएस-59 : अशोक कु मावत

नगर पालिका में दिव्यांगों की सुविधा के लिए लिफ्ट बनाई गई हैं। यह लिफ्ट बनकर कई माह पहले ही तैयार हो चुकी है। इसके बाद दिव्यांग संगठन द्वारा दो बार नगर पालिका में ज्ञापन भी दिया गया, लेकि न अभी तक लिफ्ट को शुरू नहीं कि या गया है।

-अशोक कु मावत, दिव्यांग

सीढ़ियां चढ़ने में बहुत परेशानी होती है

9 एमडीएस-60 : संतोष कु मावत

मैं दोनों पैरों से दिव्यांग हूं। नगर पालिका में दूसरी और तीसरी मंजिल पर बने ऑफिसों में काम के लिए जाने में बहुत परेशानी होती है। इसलिए मैं कई बार नगर पालिका जाने से भी कतराता हूं। सीढ़ियां चढ़कर जाना-आना पड़ता है, जिससे बहुत परेशानी होती है। जबकि अब तो लिफ्ट भी बनकर तैयार हो गई है, लेकि न नगर पालिका उसे शुरू नहीं कर रही है। जिम्मेदारों को ध्यान देना चाहिए और जल्द ही लिफ्ट शुरू करना चाहिए।

-संतोष कु मावत, दिव्यांग

वर्शन

15 दिन में शुरू हो जाएगी लिफ्ट

नगर पालिका में लिफ्ट बनकर तैयार हो गई है। इसके लोकार्पण के लिए मंत्रीजी का इंतजार कर रहे हैं। देख लेते हैं 15 दिन के भीतर कोई रूपरेखा बन जाए तो ठीक नहीं तो लिफ्ट शुरू कर दी जाएगी।

मोहम्मद हनीफ शेख

नपाध्यक्ष मंदसौर

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket