शामगढ़ नगर अध्यक्ष सेठिया को भी निकाला

भाजपा में शामिल होने के बाद पहली बार शामगढ़ आए थे डंग

31 एमडीएस-81 : एसआर रिसोर्ट में टीआई राठौर व अधिकारियों से चर्चा

करते हुए पूर्व विधायक डंग।.नईदुनिया

शामगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। लॉक डाउन के बीच पूर्व विधायक हरदीपसिंह डंग मंगलवार को शामगढ़ आए। इस दौरान प्रशासन व पुलिस अधिकारियों द्वारा उन्हें दिया गया प्रोटोकाल समझ से परे रहा। कुछ कांग्रेसी भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ काफी असहज दिखे। डंग के साथ भाजपा के वे ही अधिकांश नेता दिखे जो पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार से खफा थे। भाजपा के कई वरिष्ठ नेता गायब रहे। नगर

कांग्रेस अध्यक्ष माणक सेठिया को देखकर पूछा कि डंग के साथ अब कैसा महसूस कर रहें है तो सेठिया ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होने हमारे विधायक की उपेक्षा की थी इसलिए यह भाजपा में आ गए। मैं नगर कांग्रेस अध्यक्ष कोरोना वायरस के चलते इनके साथ हूं। इस दौरान कांगे्रस नेता व डंग के खास समर्थक दिलीप वधवा उर्फ बंटी अश्क, विधायक प्रतिनिधि महेश सोनी, पदमनारायण पाल सहित दो तीन अन्य कांग्रेसी भी डंग के साथ रहे। आधे घंटे बाद ही जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातड़िया ने नगर कांग्रेस अध्यक्ष माणक सेठिया सहित दो अन्य कांग्रेसजनों को पार्टी से बाहर कर दिया। ताबड़तोड़ में पंकज मुजावदिया एलजी को नगर कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की घोषणा कर दी। जिलाध्यक्ष प्रकाश रातड़िया ने बताया कि नगर अध्यक्ष माणक सेठिया को अनुशासनहीनता के चलते पार्टी की सदस्यता से निलंबित कर दिया हैं। इसी प्रकार दिलीप वधवा उर्प बंटी अश्क व पाल को भी भाजपा में गए नेताओं का समर्थन करने पर पार्टी से बाहर कर दिया हैं। पार्टी के खिलाफ जो भी जाऐगा उसे अनुशासनहीनता मानकर बाहर कर दिया जाऐगा। सभी कांग्रेसजनों से कहा कि निष्ठापूर्वक कोरोना वायरस की त्रासदी में जनसेवा में जुटे रहे। कांग्रेस छोड़ भाजपा में गए नेताओं का समर्थन करेंगा उन पर कार्रवाई होगी।

कांग्रेस सरकार में हो रही थी उपेक्षा

इसके पहले पूर्व विधायक डंग ने कहा कि कांग्रेस में लंबे समय से मेरी उपेक्षा की जा रहीं थी। प्रदेश सरकार को सिर्फ तीन चार लोग चला रहें थे। हमारे काम तो होते नहीं थे सिर्फ दलालों के काम होते थे। हमारे काम के साथ क्षैत्र में विकास कार्य नहीं हो पा रहें थे। इसके चलते कार्यकर्ता भी परेशान थे। इसकी शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित कांग्रेस के नेताओं को करने के बावजूद ध्यान नहीं दिया गया। मेरे

क्या मंत्रियों तक के कार्य नहीं होते थे। ऐसी स्थिति में विकास के लिए मेने भाजपा में जाने का कदम उठाया। में क्षैत्र का समुचित विकास करुंगा इसके लिए कैसी भी लड़ाई लड़ना पड़े लड़ेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस