एक-एक कर लोगों को अंदर आने दे रहे

हाथ भी सैनिटाइज से धुलवा रहे, व्यवसाय भी हुआ कम

30 एमडीएस- 81 : घंटाघर स्थित पंजाब नेशनल बैंक में आने वाले उपभोक्ताओं के सैनिटाइजर से हाथ धुलाते बैंक कर्मचारी। .नईदुनिया

30 एमडीएस-82 : पंजाब नेशनल बैंक में काम करते हुए कर्मचारी। नईदुनिया

30 एमडीएस-83 : सेंट्रल बैंक में मास्क पहनकर उपभोक्ताओं का काम करती हुई क्लर्क सुमन सालंकी। .नईदुनिया

30 एमडीएस- 84 : नईआबादी स्थित एसबीआई की शाखा में दो फिट दूरी से प्रीमियम की जानकारी लेते उपभोक्ता। नईदुनिया

30 एमडीएस- 85 : एसबीआई बैंक की नईआबादी शाखा में सैनिटाइजर से हाथ धोती सर्विस मैनेजर कृष्णा पाटीदार। नईदुनिया

30 एमडीएस- 86 : एसबीआई बैंक की नईआबादी शाखा में हाथ धोते हुए उपभोक्ता। नईदुनिया

30 एमडीएस- 87 : बैंक ऑफ बड़ौदा में काम करते मेनेजर और असिस्टेट मेनेजर। नईदुनिया

मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना वायरस से बचाव के अलर्ट के चलते आवश्यक सेवाओं वाले मैदान में हैं और तमाम ऐसे कार्यालय जिनसे फिलहाल लोगों को सीधे जुड़ाव नहीं है बंद कर दिए गए है। अति आवश्यक सेवाओं में शामिल बैंकें भी प्रतिदिन के अनुसार खुल रही है। हालांकि इनके समय में कमी कर दी गई है। पर फिर भी सारे कर्मचारी आ रहे हैं और काम कर रहे हैं। बैंकों में उपभोक्ता भी बहुत जरुरी होने पर ही जा रहे हैं। कोई साबुन से बार-बार हाथ धो रहे हैं तो कुछ सैनिटाइजर का उपयोग कराकर ही लोगों को अंदर आने दे रहे हैं।

लॉकडाउन के चलते शहर सहित जिले भर की सभी बैंक शाखाओं के खुलने का समय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक कर दिया गया है। अभी आमतौर पर एक बैंक शाखा में लगभग 10-15 लोग ही रोज पहुंच रहे हैं। इनमें भी कोई 3 हजार रुपए जमा करने आ रहा है तो कोई निकालने आ रहा हैं। कोई चेक जमा करने आ रहा है। आवश्यक सेवा होने के कारण सरकार ने सभी बैंकों को चालू रखा गया है ताकि लाक डाउन के दौरान लोगों को रुपयों की तंगी नहीं हो।

सभी बैंकों में लागू है एडवायजरी

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने को लेकर केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई एडवायजरी का पालन सभी बैंकों में किया जा रहा है। पंजाब नेशनल बैंक की घंटाघर स्थित शाखा में एक-एक को ही आने दे रहे हैं। आने से पहले हाथ सैनिटाइजर से धुलवा रहे हैं। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में पांच-छह लोगों को अंदर इंट्री दी जा रही है और शारीरिक दूरी का पालन कराया जा रहा है। अभी बैंकों में चेक, केश, जमा करने व निकालने वाले लोग आ रहे हैं।

बारी-बारी से बुला रहे खातेदारों को

30 एमडीएस- 88 : बीरबल मीना

- बैंक में एक-एक कर खातेदारों को बारी-बारी से बुला रहे हैं। गेट पर गार्ड तैनात है जो सभी के हाथ सैनिटाइजर से धुला रहा हैं। तुरंत खातेदारों का काम कर उन्हें फ्री किया जा रहा है।-बीरबल मीना, चीफ मेनेजर, पंजाब नेशनल बैंक सभी के धुला रहा हूं हाथ

30 एमडीएस- 89 : सुरेंद्र मालवीय

- बैंक में आने वाले सभी उपभोक्ताओं के हाथ सैनिटाइजर से धुलवा रहा हूं। अंदर भीड़ न हो इसलिए एक-एक ग्राहक को ही बुला रहे हैं।-सुरेंद्र मालवीय, कर्मचारी, पंजाब नेशनल बैंक। दो घंटे से खड़ी हूं

30 एमडीएस- 91 : मीना भंडारी

मैं पंजाब बैंक में खाते से रुपये निकालने आई थी। दो घंटे से लाइन में खड़ी हूं काफी परेशानी आ रही है। बैंक में भी एक-एक कर बुलाया जा रहा हैं।-मीना भंडारी, ग्राहक। परेशान हो गया हूं

30 एमडीएस- 92 : दिनेश बाफना

- पंजाब बैंक में रुपये निकालने आया था दो घंटे से लाइन में खड़ा हूं। अभी

तक नंबर नहीं आया है मेरा। परेशानी आ रही है। पहले से ज्यादा परेशानी आ

रही है।-दिनेश बाफना, रामटेकरी। समझाइश दे रहे हैं

30 एमडीएस- 93 : अजीत कुमार जैन

- बैंक में अभी 5-6 लोगों को ही एक बार में आने दे रहे हैं। आरटीजीस वाले उपभोक्ता आ रहे हैं। बैंक में आने वाले सभी लोगों के सैनिटाइजर से हाथ धुला रहे हैं। एटीएम पर भी सैनिटाइजर रखा है।-अजीत कुमार जैन, ब्रांच मेनेजर, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया मंदसौर

बार-बार धो रही हूं हाथ

30 एमडीएस- 94 : सुमन सोलंकी

- बैंक में काम करने के दौरान दिन में कई बार सैनिटाइजर से हाथ धो रही हूं। कोरोना से डर तो है पर इससे बचने का उपाय भी यही है। इसलिए बार बार सैनिटाइजर और साबुन का उपयोग कर रही हूं।-सुमन सोलंकी, क्लर्क, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, मंदसौर।

सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक खुल रही बैंक

30 एमडीएस-95 : दीपक शर्मा

- बैंक सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुल रही है। बाहर 6 गोले बनाए है ज्यादा लोग एकत्र नहीं होने दे रहे हैं। बैंक में भी एक दो से ज्यादा को नहीं आने दे रहे हैं। आने वाले उपभोक्ताओं के हाथ सैनिटाइजर से धुला रहे हैं। बैंक में तीन हजार रुपए जमा करने लोग आ रहे हैं। हम खुद ही दिन में चार बार सैनिटाइजर से हाथ धो रहे हैं।-दीपक शर्मा, ब्रांच मैनेजर, भारतीय स्टेट बैंक नई आबादी

प्रीमियम जमा करने आया था

30 एमडीएस- 96 : अनिल पारिख

- मैं नईआबादी की एसबीआई शाखा में प्रीमियम जमा करने आया था, दो मीटर दूर से ही मुझे प्रीमियम जमा कराना पड़ी है। बैंक में यह व्यवस्था अच्छी है। -अनिल पारिख, मंदसौर। हर 10 मिनट में धो रही हूं हाथ

30 एमडीएस- 97 : कृष्णा पाटीदार

- बैंक में आने वाले उपभोक्ताओं से पेपर लेन-देन के बाद मैं हर 10 मिनट में सैनिटाइजर से हाथ धो रही हूं। कोरोना से डर तो है पर इससे बचाव का उपाय भी यही है। मास्क लगाना और बार-बार हाथ धोना है।-कृृष्णा पाटीदार, सर्विस मेनेजर, एसबीआई, शाखा नई आबादी। नोट देने व लेने के बाद धो रहा हूं हाथ

30 एमडीएस- 98 : अशोक सिंगार

- बैंक में नोट लेने व देने के बाद सैनिटाइजर से हाथ धो रहा हूं। इसके साथ ही बैंक में आने वाले उपभोक्ताओं के भी हाथ धुलाएं जा रहे हैं। सभी को शरीरिक दूरी बनाने के लिए कहां जा रहा है।- अशोक सिंगार, हेड कैशियर, एसबीआई शाखा नईआबादी

कैश व चेक के उपभोक्ता आ रहे हैं

30 एमडीएस- 99 : विकल्प अरोरा

- बैंक में 10-12 उपभोक्ताओं से ज्यादा नहीं आ रहे हैं। सभी लगभग कैश व चेक वाले ही उपभोक्ता आ रहे है। बैंक में आने वालों के हाथ सैनिटाइजर से धुलवा रहे हैं।-विकल्प अरोरा, ब्रांच मेनेजर, बैंक ऑफ बड़ौदा नियम पालन कर रहे है

30 एमडीएस- 100 : शैलेंद्र जैन

कोरोना से बचने के लिए नियम का पालन कर रहे है। बार-बार हाथ धोना, सैनिटाइज करना। बैंक में आने वालों से शारिरिक दूरी बनाकर, सभी का ध्यान रखा जा रहा है।- शेलेंद्र जैन, असिस्टेंट मेनेजर, बैंक ऑफ बड़ौदा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस