शामगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर मंडल में मेमू ट्रेन सेवा प्रारंभ कर दी है। लेकिन कोटा रेल मंडल द्वारा मेमू व रतलाम मंडल द्वारा मथुरा लोकल ट्रेन नही चलाये जाने से यात्रियों के साथ कोटा शामगढ़ नागदा तक अपडाउन करने वाले लोगों को भी परेशानी हो रही है।

मेमू ट्रेन को लेकर हाल ही में कोटा में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से अपडाउन करने वाले यात्री संघ के प्रमुख हरिचरणसिंह सलूजा ने मेमू को शीघ्र प्रारंभ करने की मांग की थी। एक सप्ताह पहले दिल्ली में केबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग व सांसद सुधीर गुप्ता के साथ शामगढ़-सुवासरा के प्रतिनिधि मंडल ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कर रेल सुविधाओं में विस्तार को लेकर ज्ञापन सौंपा था। रेल मंत्री ने शामगढ़ रेल स्टेशन पर 24 सितंबर तक तीन ट्रेनों के ठहराव पर सहमति दी थी। लेकिन 25 सितंबर तक कोई हलचल नही हुई है। पश्चिम मध्य रेलवे के रेल मार्गो के पूरी तरह विद्युतकृत होने के साथ ही रेलवे ने अप्रैल माह मे जबलपुर झोन में करीब सात मेमो ट्रेनों के संचालन की अनुमति दे दी थी। जबलपुर मंडल में तो मेमो का संचालन शुरू हो गया, लेकिन कोटा रेल मंडल में मेमू का संचालन पांच माह के बाद भी शुरू नही हुआ है। जबकि कोटा में मेमू के सभी रैंक आ गए थे। कोटा रेल मंडल को रेलवे बोर्ड ने चार मेमू कोटा बीना कोटा के बीच, कोटा शामगढ़ कोटा के बीच, कोटा झालावाड़ कोटा के बीच व कोटा चित्तौढ़गढ़ कोटा के बीच मेमू ट्रेन का संचालन प्रस्तावित किया था। इधर मथुरा-रतलाम के बीच चलने वाली इस रूट की सस्ती सुलभ लोकल सवारी गाड़ी पिछले दो साल से बंद है, यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

मरम्मत का कार्य प्रारंभ, दो दिन के लिये बंद की गई फाटक

शामगढ़। नगर की व्यस्ततम रेलवे समपार फाटक संख्या 46 पर सुरक्षा को लेकर मरम्मत कार्य चल रहा है। जिसके चलते दो दिन तक समपार गेट से सड़क यातायात किया गया है। समपार फाटक को शनिवार सुबह सात बजे बंद किया गया है, यह फाटक 26 सितंबर तक बंद रहेगी। इस दौरान सड़क यातायात 46 समपार के समीप स्थित ओवरब्रिज से सड़क यातायात चालू रहेगा।

शामगढ़ में 20 मिनट तक हुई तेज बारिश

शामगढ़। नगर में शनिवार दोपहर करीब 20 मिनट तक जोरदार बारिश हुई। पानी सड़कों से बह निकला। इससे पहले शुक्रवार-शनिवार की रात में भी नगर में तेज बारिश हुई। लगातार हो रही बारिश से किसानों की चिंता बढ़ती जा रही है। बारिश के कारण खरीफ की फसलों में नुकसान हो रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local