भानपुरा। भानपुरा क्षेत्र के ग्राम कातना में शनिवार शाम को आकाशीय बिजली गिरने से छह लोग झुलस गए। ये सभी खेत में काम कर रहे थे तभी आकाशीय बिजली गिर गई। घायलों में चार लोग एक ही परिवार के है। दो गंभीर घायलों के उच्च उपचार के लिये झालावाड़ रैफर किया गया है। जानकारी के अनुसार ग्राम कातना के नवनिर्वाचित सरपंच सरदार भील के खेत में शनिवार शाम करीब चार बजे आकाशीय बिजली गिरी। इस दौरान खेत में में सरपंच सरदार भील की पत्नी सुंदरबाई, पुत्र कमलेश, देवीलाल व पुत्री ताराबाई भील तथा दो अन्य भोलीबाई पति भेरूलाल चारण व सीमाबाई पुत्री प्रबुलाल चारण काम कर रहे थे। बिजली गिरने से ये सभी छह लोग घायल हो गये। स्वजन व ग्रामवासी सभी घायलों को लेकर भानपुरा अस्पताल पहुंचे। यहां पर सभी का उपचार किया गया। डाक्टर प्रदीप गौड़ ने बताया कि ताराबाई भील व भेरूलाल भील को झालावाड़ अस्पताल में रेफर किया है। अन्य मरीजों का उपचार भानपुरा अस्पताल में चल रहा है।

12 बोर का देशी कट्टा व कारतूस रखने वाले को दो वर्ष का कठोर कारावास

मंदसौर। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी राहुल सोलंकी ने अवैध रुप से 12 बोर का देशी कट्टा व कारतूस रख्नेज वाले आरोपित जितेंद्र पुत्र प्रभुलाल लोधा निवासी ग्राम भाट रेवास को दो वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाई हैं साथ ही एक हजार रुपये अर्थदंड किया है। अभियोजन मीडिया सहायक शोएब खान ने बताया कि 21 अप्रैल 2014 को दलौदा चौकी पर पदस्थ उप निरीक्षक वायआर सेन ने सूचना मिलने पर महू-नीमच राजमार्ग पर स्थित लखमाखेड़ी फंटे पर 20 वर्षीय जितेंद्रसिंह पुत्र प्रभुलाल लोधा निवासी भाट रेवास को रोककर तलाशी ली तो उसके पास से 12 बोर का देशी कट्टा चालू हालत में मिला। 12 बोर का एक जिंदा कारतूस भी जब्त किया गया। आरोपित के पास से देशी कट्टे का कोई लाइसेंस भी नहीं मिला। उसे गिरफ्तार कर देशी कट्टा व कारतूस जब्त कर जब्ती की कार्रवाई की गई। प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग-पत्र न्यायालय में पेश किया गया। विचारण के दौरान प्रकरण में न्यायालय के समक्ष अभियोजन द्वारा रखे गये तथ्यों व तर्कों से सहमत होकर न्यायालय ने आरोपित को सजा सुनाई। अभियोजन का सफल संचालन सहायक जिला अभियोजन अधिकारी बलराम सोलंकी ने किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close