मुंबई के आटो चालक के मोबाइल से बालक ने स्वजनों को किया काल

मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सेंट थामस स्कूल से लापता हुआ 14 वर्षीय विद्यार्थी दो दिन बाद मुंबई में मिला। स्कूल में ही बैग छोड़कर लापता हुए बालक की खोजबीन पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की। पुलिस और स्वजन बालक की तलाश कर रहे थे, तभी बालक ने मुंबई में एक आटो चालक के मोबाइल से स्वजन से संपर्क किया। इसके बाद पुलिस ने मुंबई पहुंचकर बालक को सुरक्षित लाकर स्वजन के सुुपुर्द किया है।

कोतवाली थाना प्रभारी अमित सोनी ने बताया कि बालक को 48 घंटे में दस्तयाब कर लिया है। थाना प्रभारी सोनी ने बताया कि नाहर सैयद रोड अरोरा कालोनी निवासी अब्दुल अजीज अब्दुल शफीक शेख ने थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया था कि उनका पुत्र 14 वर्षीय अब्दुल खालिद 12 अगस्त को सुबह सात बजे स्कूल गया था। बाद में स्कूल से बताया कि अब्दुल खालिद स्कूल से रेस्ट के बाद अपना बैग स्कूल में ही छोडकर कहीं चला गया है, स्कूल वापस नहीं आया।

दूसरी ड्रेस में सीसीटीवी में दिखा

अपराध में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखे, जिसमें बालक स्कूल यूनिफार्म में न होकर दूसरे ड्रेस में जाता दिखा। पुलिस ने आरपीएफ थाना चित्तौडगढ़, उदयपुर, भीलवाडा, अजमेर तथा रतलाम, गोधरा, बड़ोदरा, अहमदाबाद, मुंबई सेंट्रल को एसएमएस किया तथा वाट्सएप पर मुंबई चाइल्ड लाइन को गुम बालक का फोटो भेजकर तलाश करवाई गई। अंधेरी मुंबई आरपीएफ द्वारा गुम बालक के फुटेज रेलवे स्टेशन से प्राप्त किए गए। इसी दौरान साइबर सेल में लगे अधिकारी एवं कर्मचारी भी सक्रिय हुए।

गुम बालक मुंबई पहुंच गया था। यहां एक आटो रिक्शा के चालक जो कि अंधेरी स्टेशन पर था, उसके मोबाइल से बालक ने अपनी मां के मोबाइल पर काल कर सूचना दी। आटो चालक का मोबाइल नंबर साइबर सेल द्वारा ट्रेस किया गया। आटो वाले से बातचीत की गई। कोतवाली थाने में पदस्थ उनि वरसिंह कटारा द्वारा जीआरपी, आरपीएफ व विभिन्ना जिलों से संपर्क कर बालक की तलाश जारी रखी गई। बालक के मुंबई में होने की जानकारी मिलने पर एक टीम तैयार कर स्वजन के साथ मुंबई रवाना हुई तथा गुम बालक को सुरक्षित दस्तयाब किया गया। कोतवाली में बालक को स्वजन के सुपुर्द किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close