आयोजन : श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर विहिप व ग्वाला समाज ने निकाला चल समारोह, मंदिरों में गूंजे जयकारे

मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर सहित जिलेभर में शुक्रवार को जन्माष्टमी पर्व पर उत्साह के साथ मनाया गया। सुबह से रात तक मंदिरों में धार्मिक कार्यक्रम हुए। मंदसौर में विश्व हिन्दू परिषद एवं ग्वाला समाज द्वारा चल समारोह निकाले गए। खाटू श्याम मंदिर में भक्तों की भीड़ लगी रही, मंदिर दिनभर खुला रहा। गोवर्धननाथ मंदिर, जगदीश मंदिर में विशेष दर्शन हुए। मंदिरों में भक्तों ने भगवान श्रीकृष्ण को पालना भी झुलाया, कृष्ण की आरती उतारी। शुक्रवार रात में जिला जेल में भी आकर्षक झांकी सजाई। कोरोनाकाल के दो साल जेल में भी इस साल जन्माष्टमी पर्व पर झांकी सजाई गईं। दर्शन के लिये शाम से रात तक भक्तों को भीड़ लगी रही। विहिप द्वारा चल समारोह के बाद गांधी चौराहा पर मटकी फोड़ का आयोजन भी किया गया।

जन्माष्टमी पर शुक्रवार को पूरा शहर कृष्णमय हो गया। विश्व हिंदू परिषद ने स्थापना दिवस पर खानपुरा स्थित केशव सत्संग भवन में चल समारोह निकाला, जो दिनभर प्रमुख मार्गो से होता हुआ शाम को गांधी चौराहे पर पहुंचा। रास्ते भर चल समारोह का जगह-जगह स्वागत किया गया। मनमोहन झांकियों ने चल समारोह की शोभा बढ़ाई। अखाड़ों के कलाकारों ने हेरतअंगेज करतब दिखाए। शुक्रवार सुबह से ही शहर में श्रद्धालु श्रीकृष्ण भक्ति में डूबे रहे। खानपुरा स्थित केशव सत्संग भवन से शुरू हुए चल समारोह की शुरुआत में विहिप पदाधिकारी, भाजपा पदाधिकारी व जनप्रतिनिधि भी शामिल हुए। जुलूस में सबसे आगे महिलाएं कलश लेकर चल रही थी। चल समारोह में नन्हे-मुन्नो बच्चे श्रीकृष्ण और राधा की वेशभूषा में शामिल हुए। डीजे पर युवाओं की टोलियों ने नृत्य किया। चल समारोह में करीब आठ झांकिया आकर्षण का केंद्र रही एवं लगभग 10 से अधिक अखाड़े शामिल हुए। अखाड़ों के कलाकारों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए। झांकियों में राधा-कृष्ण बनकर बैठे बच्चों की धर्मालुजनों ने आरती भी की। चल समारोह में विहिप, बजरंग दल के पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए। चल समारोह में सांसद सुधीर गुप्ता ने भी गदा घुमाया। खानपुरा सत्संग भवन से प्रारंभ हुआ चल समारोह मंडी गेट, सदर बाजार, धानमंडी, गणपति चौक, शुक्ला चौक, घंटाघर, बस स्टैंड, युवराज क्लब रोउ होते हुए गांधी चौराहा पर पहुंची। चल समारोह को मार्ग में लगभग 35 से अधिक स्थानों भक्तों द्वारा जुलूस का स्वागत किया गया। शाम को चल समारोह प्रमुख मार्गो से होते हुए गांधी चौराहे पर पहुंचा। गांधी चौराहा धर्मसभा एवं मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन भी हुआ। धर्मसभा को संतों और महंतों ने संबोधित किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close