बच्चों के स्वजन हुए आक्रोशित, शिकायत के बाद चना वितरण बंद करवाया

धुंधडका (नईदुनिया न्यूज)। ग्राम खजूरीआंजना के आंगनबाड़ी केंध एक पर बच्चों का सड़े चने वितरित किए जाने का मामला सामने आया है। आंगनबाड़ी से मिले चने लेकर जब बच्चे घर पहुंचे तो चने को देखकर बच्चों के स्वजन आक्रोशित हो गये। आंगनबाड़ी पहुंचकर आकोश जताते हुए कहा कि यह कोई चने है क्या, इस तरह के सड़े चने खाकर तो हमारे बच्चे बीमार ही हो जायेंगे। देना है तो अच्छे चने दीजिये नहीं तो चने वितरण ही मत कीजिये। आक्रोश की जानकारी मिलते ही आंगनबाड़ी सुपरवाइजर ने चना वितरण बंद कर दिया, सभी चना अब सोसायटी भेजा जाएगा।

ग्राम खजुरी आंजना के आंगनबाड़ी केंद्र एक पर बच्चों को वितरित किया जा रहे चने को देखकर गुरूवार को स्वजन एवं ग्रामीण आक्रोशित हो गये। ग्रामीणों का कहना है कि जो चने नौनिहालों को आंगनबाड़ी से दिया जा रहा है वह चना पूरी तरह से सड़ा हुआ है इतना खराब है कि इस चने को पशु भी नहीं खायेंगे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी ग्रामीण अंचल की आंगनबाड़ियों में सड़ा व दूषित खाद्यान्ना पहुंचाकर वाह वाहीं लूट रहे है। खराब खाद्यान्ना निशुल्क उपलब्ध करवाकर किसी के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करना उचित नहीं है।

चने पर छा रही है फफूंद, इसे कैसे खाएंगे बच्चे

ग्रामवासी बाहदुरसिंह आंजना, दशरथ मेहता ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों कि आंगनबाड़ी केंद्र में बच्चों को वितरित किया जाने वाला चना खाने लायक नहीं है। बच्चों को वितरित किया जा रहा चना इतना खराब है कि चने में फफूंद छा रही है, अब इस तरह चने को बच्चें कैसे खाएंगे। गांव की महिलाओं का कहना है कि ऐसे खराब चने देकर जिम्मेदार अधिकारी हमारे बच्चों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहा हैं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का कहना है कि सोसायटी से हमको जैसा चना बच्चों को वितरित करने के लिए मिला है। हम वहीं चना बच्चों को वितरित कर रहे हैं। हम इसमें कुछ नहीं कर सकते हैं।

आंगनबाड़ी सुपरवाइजर गायत्री सेजू ने बताया कि घटिया चने की जानकारी हमें मिली है। हमने तुरंत आंगनबाड़ी पर वितरण होने वाले चने को बंद करवा दिया है। जिनको वितरित किए है, उनसे वापस ले लिए जाएंगे और सोसायटी को भेज देंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close