मंदसौर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वा वधान में ग्राम टकरावद एवं मंदसौर शहर की विभिन्ना बस्तियों में विधिक साक्षरता शिविर लगाने के साथ ही पैरालीगल वालेंटियर्स की टीम ने विभिन्ना जागरूकता कार्यक्रम, गतिविधियां आयोजित की। इसके अनुक्रम में तहसील विधिक सेवा समिति नारायणगढ़ द्वारा ग्राम टकरावद में विधिक साक्षरता शिविर लगाया गया। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी तहसील विधिक सेवा समिति अध्यक्ष संतोष बघेल ने राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना, घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम व पाक्सो एक्ट के प्रविधान बताएं। ललित कुमार मईड़ा ने संविधान प्रदत्त मौलिक अधिकारों व कर्तव्यों की जानकारी देकर बताया कि मौलिक अधिकारों का प्रयोग इस तरह किया जाना चाहिये कि दूसरों के अधिकारों का उल्लंघन नहीं हो। मल्हाड़रगढ़ एसडीएम रोशनी पाटीदार ने शासन की योजनाओं से ग्रामीणों को जानकारी प्रदान करते हुए योजनाओं का लाभ लेने हेतु सदैव जागरूक रहने को कहा। वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी गुप्ता ने बताया कि हमें समाज में निरंतर विकास हेतु अधिकारों एवं कर्तव्यों की जानकारी होना व कर्तव्यों के उल्लंघन होने पर उनका प्रवर्तन किस मंच के माध्यम से कराने के बारे में ज्ञान होने की आवश्यकता है। अधिवक्ता सय्यद मंसूरी ने विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम के बारे में बताते हुए विधिक सहायता हकदार व्यक्तियों के बारे में बताया। ग्रामीणों की विधिक समस्याओं का हल कर विभिन्ना योजनाओं से संबंधित पर्चे वितरित किए गए।

मंदसौर शहर की बस्तियों में भी लगाए शिविर

अभियान के अनुक्रम में शनिवार को मंदसौर शहर के वार्ड 15, 16, 20 एवं 21 में अभियान के तहत विधिक साक्षरता शिविर लगाए गए। इस अवसर पर जिला विधिक सहायता अधिकारी योगेश बंसल, पैनल अधिवक्ता शिवरमनसिंह पंवार, पैरालीगल वालेंटियर्स नितिन सोनी, विश्वमोहन अग्रवाल, छाया कुमावत, सोना सोलंकी, उषा सोलंकी, कार्यालयीन कर्मचारी प्रदीप भावसार, दशरथ मुछवारा उपस्थित रहे।

जिला विधिक सहायता अधिकारी योगेश बंसल ने बस्तीवासियों को विधिक सहायता प्राप्त करने के हकदार व्यक्तियों की जानकारी दी। पेरालीगल वालेंटियर्स की टीमों ने ग्राम बानीखेड़ी, ग्राम पिपल्या मुझावर, पाडलिया लालमुंहा, भालोट, डोराना, अलावदाखेड़ी, बोहराखेड़ी, चिकलिया, ढिकोला, सांकरिया, हांसली, मालिया खेरखेड़ा, बादाखेड़ी, सेमली, गांधीग्राम, आक्या फत्तू इत्यादि ग्रामों में जाकर ग्रामवासियों को विभिन्ना योजनाओं व कानून के प्रति जागरूक करने के लिए डोर-टू-डोर अभियान एवं विधिक साक्षरता शिविर लगाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local