मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में बुधवार व गुरुवार को लगातार हो रही बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर है। छोटी पुलियाओं और रपट के ऊपर पानी बह रहा है। रक्षाबंधन का पर्व होने की वजह से आवागमन ज्यादा है, लेकिन पुलियाओं के ऊपर तक पानी होने की वजह से कई लोग पार नहीं कर पा रहे थे।

नाहरगढ़-बिल्लोद मार्ग पर शिवना पुलिया के ऊपर तक पानी होने के बाद भी नाहरगढ़ के सरपंच पति पदमसिंह चौहान ने कई लोगों की जान जोखिम में डालते हुए अपनी जेसीबी में कई लोगों को बैठाकर नदी पार कराई। इसका एक वीडियो भी इंटरनेट मीडिया में वायरल हो रहा है।

वीडियो में जेसीबी में करीब 12 से 13 ग्रामीणों को बैठाकर नदी पार करवाई गई। लेकिन यह कई लोगों की जान जोखिम में डालने जैसा है।

जानकारी के अनुसार सरपंच राधाबाई के पति पदम सिंह पुलिया पर पानी के बहाव से आई जलकुंभी को जेसीबी मशीन से हटवा रहे थे। इस दरमियान पुल के ऊपर पानी बह रहा था और कई ग्रामीण किनारे पर पानी उतरने का इंतजार कर रहे थे। उसी दौरान सरपंच पति ने जेसीबी से लोगों की जान जोखिम में डालकर पुल पार कराई।

पुलिस ने जेसीबी जब्त की

मंदसौर कलेक्टर गौतमसिंह ने बताया कि नाहरगढ़-बिल्लोद मार्ग पर जेसीबी में बैठाकर लोगों को शिवना नदी पार कराने वाले सख्त कार्रवाई की जाएगी। नारायणगढ़ पुलिस ने जेसीबी जप्त कर ली है। पुलिस अधीक्षक तथा संबंधित तहसीलदार को कार्यवाही करने के लिए तत्काल निर्देश प्रदान किए गए हैं।

अधि‍कारियों के अनुसार नाहरगढ़ बिल्लोद मार्ग बंद होने पर जान जोखिम में डालकर शिवना नदी से जेसीबी में लोगों को बैठाकर पार कराया जा रहा था। यह कार्य गंभीर लापरवाही के साथ लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करने का कार्य किया जा रहा था। अगर इस जेसीबी का मालिक सरपंच भी रहा तो भी उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगा।

तहसीलदार वैभव जैन ने बताया कि नाहरगढ़ बिल्लोद मार्ग बंद वर्तमान स्थिति में चालू है। इसके साथ ही जेसीबी को नारायणगढ़ थाना प्रभारी द्वारा जप्त कर लिया गया है। जेसीबी मालिक की विरुद्ध प्रकरण बनाकर कार्रवाई की जा रही है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close