महू (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कृषि उपज मंडी महू में इन दिनों की हूं और सोयाबीन की जोरदार आवक हो रही है। यहां बड़ी संख्या में किसान भी पहुंच रहे हैं लेकिन किसानों के लिए फिलहाल मंडी में कोई खास जगह नहीं मिल पा रही है। महू मंडी में व्यवस्थाएं तो पर्याप्त हैं लेकिन उन पर व्यापारियों का कब्जा है जिसके चलते किसान परेशान हैं और लगातार शिकायत कर रहे हैं।

मंडी के अंदर कई शेड्स है लेकिन में फसल बेचने आए किसानों को जगह नहीं मिल रही है। यहां व्यापारियों ने अपने ही खरीदी हुई उपज रखी है। लिहाजा किसान धूप में बैठकर अपनी फसल बीच रहे हैं। शुक्रवार को इस बारे में कई किसान शिकायत करते नजर आए। किसानों का कहना था कि वे कई बार कह चुके हैं कि उन्हें मंडी के रेट में अपनी फसल रखने की जगह दी जाए लेकिन ना तो मंडी अधिकारियों की बात सुन रहे हैं और ना ही व्यापारी। ऐसे में उन्हें धूप में खड;े रहकर ही फसल बेचनी पड़ी है।

इस बारे में मंडी सचिव संतोष मंडरे का कहना है कि वे व्यापारियों को नोटिस दे चुके हैं और जल्दी ही मंडी के शेड खाली करने को कहा है। वहीं किसानों के मुताबिक उन्हें केवल आश्वासन ही दिए जा रहे हैं जबकि मंडी में किसी तरह की व्यवस्थाएं नहीं हैं। यहां ना तो खरीदी के बारे में पूरी जानकारी ही मिल रही है और ना ही उनकी बात ही सुनी जा रही है।

'धर्म के नाम पर शक्ति-प्रदर्शन पतन का कारण'

महू। इन दिनों शक्ति प्रदर्शन और दिखावा आम बात हो गई है। धर्म के नाम पर शक्ति प्रदर्शन सनातन धर्म के पतन का कारण बनता जा रहा है जिसे बंद कर देना चाहिए। यह बात धार नाका में चल रही भागवत कथा के अंतिम दिन पंडित विपुल कृष्ण महाराज ने कही। विपुलजी का ग्वाला समाज द्वारा सम्मान किया गया। कथा के अंतिम दिन धर्म की व्याख्या करते हुए उन्होंने कहा कि धर्म का अर्थ 'धारण' करना होता है और धारण करने योग्य सत्य, पवित्रता, दया, चरित्र होता है। कलियुग में धर्म को शक्ति प्रदर्शन का माध्यम बना लिया गया है जबकि धर्म आस्था का विषय है। लेकिन सनातन धर्म की परंपरा लुप्त हो रही है। यदि सनातन धर्म को बचाना है तो इसके प्रति आस्था जागृत करना वर्तमान समय की प्रथम आवश्यकता है। कथा में उद्घव-गोपी संवाद, कृष्ण-सुदामा चरित्र का चित्रण किया। अंत में फूकी होली खेलकर व्यास पूजा के साथ कथा का समापन हुआ। महेंद्र रियार और नरेश रियार ने व्यास पीठ का पूजन किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags