महू (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण की दिनोंदिन बढ़ती चेन को तोड़ने के लिए व्यापारियों ने स्वैच्छिक लाकडाउन का निर्णय लिया था, लेकिन इसे सभी व्यापारियों व आम नागरिकों का पूरा साथ नहीं मिला, जिस कारण 60 फीसद दुकानें और प्रतिष्ठान खुले रहे। नागरिकों ने भी बाजार में भीड़ बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

कोरोना की चेन तोड़ने के लिए प्रशासन ने तहसील के नागरिकों, समाजसेवियों तथा व्यापारी संगठनों से अपील कर सहयोग करने की बात कही थी। इस कारण व्यापारी संगठनों ने प्रशासन का साथ देते हुए निर्णय लिया था कि वे गुरुवार की सुबह से लेकर मंगलवार की सुबह तक दुकानें, प्रतिष्ठान व बाजार बंद रखेंगे। यह निर्णय स्वैच्छिक था जिसमें प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की सख्ती नहीं थी और न ही व्यापारी संगठनों ने अनिवार्य किया था।

बैठक में आए सभी सदस्यों ने तो गुरुवार को अपने प्रतिष्ठान बंद रखे। साथ ही कुछ व्यापारियों ने इसमें साथ दिया, लेकिन इस निर्णय का जो असर शहर में दिखना था वह नहीं दिखा। खास कर मेन स्ट्रीट, एमजी रोड, सांघी स्ट्रीट पूरी तरह खुले रहे। कुछ दुकानदारों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे, लेकिन पीछे के दरवाजे या फिर एक शटर खोल कर व्यापार करते नजर आए। इस संबंध में व्यापारियों की ओर से प्रतिनिधित्व करने वाले पियूष अग्रवाल, नवीन सैनी, बसंत अग्रवाल आदि ने कहा कि यह निर्णय नागरिकों के हित में लिया गया था, जिसमें सभी को साथ देना चाहिए। स्वैच्छिक लाकडाउन में 40 फीसद बंद रहा। हमने किसी पर अनिवार्यता नहीं रखी। अब अगर नागरिक साथ नहीं देंगे तो शासन व प्रशासन को सख्त निर्णय लेना पड़ेगा।

सफाई कर्मी अब घर-घर बाटेंगे मास्क

अनिवार्य रूप से मास्क पहनने के नियम के कारण तहसील में समाजसेवी संस्थाओं द्वारा मास्क का वितरण किया जा रहा है। अब परिषद के सफाई कर्मी घर-घर कचरा एकत्र करने के दौरान मास्क का वितरण भी करेंगे।

नगर में पाथ फाउंडेशन द्वारा एक वर्ष से मास्क का वितरण किया जा रहा है। इसके अलावा अन्य समाजसेवी संगठनों ने भी समय-समय पर मास्क का वितरण किया। अग्रोहा इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी द्वारा स्थानीय प्रशासन को एक लाख मास्क वितरण के लिए दिए गए। अब छावनी परिषद द्वारा भी हर घर में मास्क का वितरण किया जाएगा। इसके अंर्तगत पांच हजार मास्क बांटे जाएंगे। स्वास्थ्य अधीक्षक मनीष अग्रवाल ने बताया कि सफाई कर्मी डोर टू डोर कचरा एकत्र करने के साथ घर-घर में मास्क भी वितरित करेंगे।

श्री सच्चिदानंद सेवा प्रकल्प के अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने बताया कि गाजी की चाल, झिरी घाट, बगीचा क्षेत्र में प्रत्येक परिवार के सभी सदस्यों को मास्क बांटे गए। साथ ही जिनकी आयु 45 वर्ष से अधिक है, उनको वैक्सीन लगवाने की अपील की। इस अवसर पर जीतू कौशल, सिद्घेश्वर माथुर, अमित सैनी, भागीरथ प्रजापति, शंभू कौशल, धर्मेंद्र प्रजापति, नीरज बाथम, अमन कौशल, आकाश कौशल, मोहित कौशल, सोनू चौहान आदि मौजूद रहे।

50 नए संक्रमित मिले

तहसील में गुरुवार को 50 नए संक्रमित मिले। साथ ही 40 संक्रमित स्वस्थ भी हुए। तहसील में मिले 50 संक्रमितों में 16 शहरी क्षेत्र के व 12 मानपुर ग्रामीण क्षेत्र व सात कोदरिया के हैं। अब तक तहसील में संक्रमितों की संख्या 4785 हो गई। एक्टिव केस की संख्या 609 हो गई। गुरुवार को शासकीय आंबेडकर अस्पताल में बने कोविड अस्पताल में सिमरोल के खंडवा रोड निवासी एक 75 वर्षीय महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई। उक्त महिला का स्वास्थ्य काफी गंभीर था। बताया जाता है कि 95 प्रश फेफड़े खराब हो चुके थे तथा वह 15 दिनों से अस्वस्थ थी जो कहीं अन्य जगह उपचार करवा रही थी। ज्यादा तकलीफ होने पर परिजन यहां लाए। उक्त महिला को आक्सीजन लगा कर उपचार शुरू ही किया कि उसकी मौत हो गई। विभाग द्वारा उसका अंतिम संस्कार महू मुक्तिधाम पर कराया गया। कोविड अस्पताल में गुरुवार तक 27 संक्रमित उपचार के लिए भर्ती किए गए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags