बेटमा (नईदुनिया न्यूज)। नगर सहित आसपास के क्षेत्र में मंगलवार को जोरदार वर्षा हुई। इसके चलते जहां नदी-नाले उफान पर आ गए वहीं किसानों के चेहरे भी खिल उठे। वहीं वर्षा ने स्थानीय नगर परिषद की सफाई व्यवस्था की भी पोल खोल कर रख दी। वर्षा के दौरान पानी की उचित निकासी नहीं होने से कई जगह सड़कें लबालब हो गई वहीं पानी उतरने के बाद नाली की गंदगी सड़कों पर फैली दिखाई दी।

मंगलवार को दिनभर आसमान पर बादल छाए रहे और शाम तक कभी रिमझिम तो कभी तेज वर्षा होती रही। वर्षा के चलते मैदान तालाब में तब्दील हो गए तो कई जगह पर जलजमाव की स्थिति निर्मित हो गई। मानसून की हुई पहली अच्छी वर्षा में ही नदी-नाले उफान पर आ गए। शाम को बेटमा-कुटी मार्ग पर बदीपुरा बालाजी व कालीबिल्लोद स्थित पुलिया पर पानी आ जाने से मार्ग के दोनों वाहनों की कतार लग गई और आवागमन प्रभावित हुआ। बदीपुरा पुलिया पर तो लगभग एक घंटे मार्ग बंद रहा। यहां पुलिस व लोगों की लापरवाही भी देखने को मिली। यहां पुलिस की अनुपस्थिति के चलते पुलिया पर आई पानी में से कई लोग जान जोखिम में डालकर पैदल या वाहन सहित निकलते हुए दिखाई दिए। गनीमत रही कि कोई हादसा नहीं हुआ। वर्षा के चलते किसानों के चेहरे खिल उठे हैं। पूर्व में हुई वर्षा के बाद जिन किसानों ने बोवनी कर दी थी, उन्हें वर्षा का बेसब्री से इंतजार था क्योंकि अगर एक-दो दिन ओर वर्षा नहीं होती तो उन्हें दोबारा बोवनी करनी पड़ती। इसे उन्हें आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता। इधर वर्षा का इंतजार कर रहे शेष किसान भी अब बोवनी कार्य मे जुट जाएंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close