मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। भिण्ड जिले के मालनपुर में रहकर मजदूरी करने वाले मूक-बधिर का शव मुरैना जिले के सिहोनिया क्षेत्र में नदी किनारे मिला। हत्यारे रात के अंधेरे में शव को लाए और सड़क से नदी किनारे तक घसीटते हुए ले गए। घटना बुधवार सुबह की है। पुलिस ने फिलहाल अज्ञातों पर हत्या का केस दर्ज किया है।

बुधवार की सुबह 7 बजे के करीब सिहोनिया-भवनपुरा रोड पर आसन नदी पुल के नीचे कुछ ग्रामीण शौच करने के लिए गए थे। इसी दौरान एक युवक की नजर नदी किनारे झाड़ियों में पड़े शव पर पड़ी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की तो, नदी किनारे पर 10 मीटर दूर तक शव को घसीटने के निशान मिले। लगभग 35 साल के मृतक के गले पर फांसी के फंदे जैसे निशान थे। इसके बाद हत्या व शव को फेंकने का मामला स्पष्ट हो गया, लेकिन मृतक की पहचान नहीं हो पाई। आसपास के गांवों में मृतक को कोई नहीं जानता था। इसी दौरान मालनपुर थाने से सिहोनिया थाने में सूचना आई, कि शंकरपुर गांव में मजदूरी करने वाला युवक लापता है। सिहोनिया में मिला मृतक वही था। रात के अंधेरे में हत्या करके मृतक के शव को 25 किलोमीटर दूर मुरैना जिले की सीमा में फेंका गया है।

मूक बधिर था मजदूर, मालिक भी नहीं जानता नामः

पुलिस जांच में सामने आया है, कि मृतक युवक मालनपुर के शंकरपुर गांव निवासी गुरुचरण सिंह के यहां बीते सात महीने से मजदूरी कर रहा था। मृतक मूक-बधिर था, इसलिए उसका नाम-पता भी कोई नहीं जानता था। जिस गुरुचरण सिंह के यहां मृतक काम करता था, उसने भी कोई जानकारी पुलिस को फिलहाल नहीं दी है।

वर्जन

- हत्या करके शव को यहां फेंका गया है। नदी किनारे 10 मीटर दूर तक शव को घसीटा गया है, गले पर फंदे के निशान है। मृतक मूक बधिर था और जिसके यहां काम करता था वह भी उसका नाम-पता नहीं जानता। मामला बहुत उलझा हुआ है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जांच आगे बढ़ सकेगी।

पवन भदौरिया

सिहोनियां थाना प्रभारी

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local