मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंबाह के बिचपरी गांव के पास बीहड़ में चंबल नदी पर बकरी चराने गए एक 14 साल के किशोर पर मगमच्छ ने हमला कर दिया। मगरमच्छ ने किशोर की बाजू पकड़कर पानी में कई बार उठाकर पटका। जिससे उसकी बाजू की हड्डियां तक टूट गई। इसी बीच कुछ ग्रामीणों ने किशोर पर हुआ हमला देखा तो उन्होंने पत्थर मारे और लाठियां पटकीं, तब मगरमच्छ ने उसे छोड़ा। घायल किशोर को अंबाह अस्पताल लाया गया। जहां उसके हाथ की हालत देखकर उसे ग्वालियर रेफर किया गया। जहां रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक बिचपरी गांव निवासी मयंक पुत्र विनोद सिंह तोमर उम्र 14 साल रोज की चंबल किनारे बकरियां चराने के लिए गया था। गुरुवार की शाम को जब वह बकरियां चरा रहा था, इसी बीच वह पानी पीने के लिए चंबल नदी की ओर गया। जहां पहले से ही एक मगरमच्छ घात लगाए हुए बैठा था। जैसे ही मयंक ने पानी पीने के लिए हाथ आगे बढ़ाए तो पानी से निकले मगरमच्छ ने उसकी बाजू को पकड़ लिया और पानी में खींच लिया। मगरमच्छ ने इतनी तेजी के साथ उसके हाथ को लगभग उखाड़ ही दिया। वहां मौजूद अन्य ग्रामीणों ने हमला देखा तो उन्होंने मगर को पत्थर मारना शुरू कर दिया। वहीं लाठियां भी पानी पर मारी, तब कहीं जाकर मयंक को इस मगरमच्छ ने छोड़ा। जब उसे पानी से बाहर निकाला तो बाजू पूरी तरह उखड़ ही चुकी थी। जिस पर उसे तुरंत ही अंबाह अस्पताल लेकर गए। जहां डाक्टरों ने उसकी हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर किया। लेकिन मयंक की हालत बेहद ज्यादा गंभीर थी। तत्काल उसे ग्वालियर अस्पताल के लिए रेफर किया गया। जहां बानमोर पहुंचने पर मयंक ने दम तोड़ दिया। रात में ही स्वजन उसके शव को लेकर अंबाह पहुंचे। जहां उसका शुक्रवार को पीएम किया गया। वहीं पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local