- बिजली कंपनी की लापरवाही आई फिर सामने

मुरैना.नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के नैनागढ़ रोड पर लाइन पर काम करने गए बिजली कंपनी के एक आउटसोर्स कर्मचारी की करंट लगने से मौत हो गई। बिजली कर्मचारी खंभे पर चढ़ा था उसी समय उसे करंट लगा और बहुत जमीन पर आ गिरा। जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लाया गया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस मामले में मृतक कर्मचारी के स्वजन का आरोप था कि बिना लाइन बंद करे ही लापरवाही पूर्वक उसे खंभे पर चढ़ा दिया गया। जबकि यह काम उसका ना होकर लाइनमैन का था। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। जिस पर स्वजन लापरवाहों पर कार्यवाही की मांग कर रहे थे।

जानकारी के मुताबिक शहर के गणेशपुरा फीडर के अंतर्गत आने वाले नैनागढ़ रोड पर बिजली में आई खराबी को दुरुस्त करने के लिए आउट सोर्स कर्मचारी धर्मेंद्र कुशवाह 35 साल गया हुआ था। उसके साथ लाइनमैन भी मौजूद था। लाइनमैन ने कहा कि परमिट ले लिया गया है, इसके बाद सीढ़ियां लगाकर धर्मेंद्र को फाल्ट ठीक करने के लिए ऊपर चढ़ाया गया। इसी बीच प्लास लगाते ही लाइन में करंट आ गया। जिससे धर्मेंद्र खंबे से नीचे आ गिरा। नीचे गिरते ही उसकी मौत हो गई। साथी कर्मचारी जिला अस्पताल भी लेकर आए। लेकिन डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर धर्मेंद्र के स्वजन भी यहां पहुंच गए। जहां उन्होंने हंगामा खड़ा करते हुए। बिजली कंपनी के अधिकारियों पर आरोप लगाया कि बिना परमिट लिए ही उसे खंभे पर चढ़ा दिया गया। इससे लाइन में करंट दौड़ रहा था। वहीं उन्होंने कहा कि यह काम धर्मेंद्र का नहीं था। लेकिन उसके बावजूद लाइनमैन की जगह धर्मेंद्र को फाल्ट ठीक करने के लिए खम्भे चढ़ा दिया। गया जिससे उसकी मौत हो गई। स्वजन इस मामले में कार्यवाही की मांग कर रहे थे।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close