मनीष शर्मा, मुरैना नईदुनिया। मुरैना में पिछले कुछ दिनों से लगातार भ्रूण और नवजात शिशु को लावारिस हालत में फेंके जाने के मामले सामने आ रहे हैं। शुक्रवार की सुबह भी एक लावारिस भ्रूण जौरा रोड पर पीजी कालेज के पास नाले में पड़ा मिला। लोगों ने जब देखा तो पुलिस को सूचना दी, पुलिस ने इस भ्रूण को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां इसका परीक्षण किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की सुबह जौरा रोड स्थित पीजी कालेज के पास टहलने वाले लोगों ने नाले में कचरे के ऊपर एक भ्रूण को देखा। जिसके बाद यहां खासी भीड़ जमा हो गई। कुछ लोगों ने इस संबंध में सिविल लाइन थाने को भी सूचना कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने इस भ्रूण को नाले से निकलवाया और इसके बाद इसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। देखने में भ्रूण महज 5 से 6 माह का लग रहा था, जो पूरी तरह विकसित भी नहीं हुआ था। जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह गर्भपात का भी मामला हो सकता है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।

अस्पताल में भी कई बार मिले हैं नवजात: पिछले 1 महीने में मुरैना में नवजात और भ्रूण मिलने के कई मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें लगभग 20 दिन पहले ही जिला अस्पताल में ही 2 नवजात शिशु लावारिस हालत में बरामद किए गए थे। एक नवजात शिशु को तो जिला अस्पताल परिसर में खड़ी होने वाली एंबुलेंस के नीचे फेंक दिया गया था। वहीं दूसरा नवजात शिशु मेटरनिटी वार्ड के एक टायलेट में पड़ा मिला था। इसकी हालत तो यह थी कि यहां पालीथिन में पैक था और कई दिन से टायलेट में ही पड़ा रहा, लेकिन इस पर किसी की नजर नहीं गई। इसी बीच सुरक्षा गार्ड वहां पहुंचा, तब उसने इस नवजात को देखा। इसके बाद इसका परीक्षण किया गया था। अब यह तीसरा मामला सामने आया है, जहां एक भ्रूण को नाले में फेंक दिया गया है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local