Madhya Pradesh News: मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। सबलगढ़ तहसील के किशोरगढ़-मानपुर के बीच चंबल नहर की दीवार टूट गई। नहर के पानी ने सैकड़ों बीघा फसल को जलमग्न कर दिया। सिंचाई विभाग ने जलस्तर कम करने के लिए नहर के पानी को चंबल नदी में मोड़ दिया है। नहर की मरम्मत में कम से कम तीन दिन का समय लग जाएगा।

किशोरगढ़-मानपुर के बीच चंबल नहर की दीवार शुक्रवार की सुबह 5 बजे फूट गई। दीवार टूटने का मुख्य कारण पानी का अधिक दबाव माना जा रहा है, लेकिन सिंचाई विभाग के अफसर शरारती तत्व द्वारा नहर की बाउंड्री को नुकसान पहुंचाने की बात से भी इंकार नहीं कर रहे हैं।

सुबह 5 बजे नहर की दीवार का 10 से 12 फीट का हिस्सा फूटा था। दोपहर होते-होते 80 से 90 फीट लंबी दीवार ध्वस्त हो गई है। तेज बहाव में निकल रहा पानी खेतों से लेकर नैरोगेज रेल लाइन तक जा पहुंचा। नहर किनारे गेहूं, सरसों व चने की फसल के सैकड़ों बीघा खेत जलमग्न हो गए। गनीमत रही कि जहां नहर फूटी है वहां खेतों से पहले एक बड़ा नाला है, जिस कारण पानी की बहुत बड़ी मात्रा नाले से होकर खेतों से दूर निकल गई, जहां नाले का चौड़ाई कम है वहां भी खेतों में पानी भरने लगा है।

ओवरलोड है चंबल नहर

राजस्थान के कोटा बैराज डैम से चंबल नहर को 3700 क्यूसेक पानी दिया जा रहा है। इस पानी से श्योपुर जिले के किसानों की फसलों की सिंचाई होती है, लेकिन श्योपुर में हो रही बारिश के कारण सिंचाई विभाग ने श्योपुर की सभी डिस्ट्रीब्यूटरी नहरों को बंद कर दिया है।

इस कारण नहर में दबाव बढ़ गया है। बैराज से सप्लाई बंद कराई तो भी कम से कम 7 दिन तक नहर में पानी का बहाव रहेगा। पानी बंद कराने के बाद उसे फिर शुरू कराने की प्रक्रिया में 15 दिन से ज्यादा का समय लग जाएगा, जिससे सिंचाई प्रभावित होगी, इसीलिए सिंचाई विभाग ने नहर का पानी चंबल नदी की ओर मोड़ दिया है।

इनका कहना है

नहर की दीवार पानी के अधिक दबाव के कारण फूटी है या किसी की शरारत है, इसकी जांच करवा रहे हैं। फिलहाल नहर का पानी कम करने के लिए पानी को चंबल नदी में मोड़ दिया है। नहर की मरम्मत करने में कम से कम 36 घंटे लग जाएंगे।

विनोद श्रीवास्तव, ईई, सिंचाई विभाग सबलगढ़

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस