Madhya Pradesh News : मुरैना (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मप्र के मुरैना की पुलिस ने उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश के वांटेड व राजस्थान पुलिस के मोस्ट वांटेड 15 हजार रुपये के इनामी डकैत गब्बर गुर्जर को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी से पहले बदमाश से कोतवाली पुलिस का संघर्ष भी हुआ। इसमें पुलिसकर्मी हल्के चोटिल भी हुए। उसके पास से 315 बोर की देशी राइफल व पांच कारतूस बरामद किए हैं।

एसपी अनुराग सुजानिया के मुताबिक गुर्जर ने पड़ोसी राजस्थान के धौलपुर जिले के जरारा गांव में पिछले दिनों फायरिंग की थी। इसके बाद वह शरण लेने के लिए मुरैना जिले में आया था।

मुरैना के एसपी सुजानिया ने बताया कि पकड़ा गया आरोपित अतराज का पुरा कंचनपुर बाड़ी धौलपुर राजस्थान निवासी गब्बर गुर्जर लुक्का गिरोह का सदस्य है। लुक्का गिरोह का हथियार दिखाकर धमकी देने का वीडियो भी पहले वायरल हुआ था। लेकिन लुक्का को राजस्थान पुलिस ने दबोच लिया था। गब्बर पर राजस्थान में 21 आपराधिक मामले दर्ज हैं। मुरैना में दो मामले दर्ज हैं और उत्तर प्रदेश में पांच मामले दर्ज है।

आरोपित पर मारपीट, लूट, डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास जैसे संगीन अपराध हैं। हाल ही में गब्बर ने अपने स्वजन की हत्या की थी। राजस्थान पुलिस की ओर से आरोपित पर 10 हजार रुपये का व जिला पुलिस की ओर से पांच हजार का इनाम घोषित था।यूपी के आगरा जिले के अंतर्गत खेरागढ़ में भी इस पर मामले दर्ज हैं।

इस तरह पकड़ा गया डकैत

एसपी के मुताबिक गब्बर गुर्जर मुरैना के बायपास रोड पर वेयरहाउस की दीवार के पास बंदूक के साथ खड़ा था। यह सूचना शहर कोतवाल अजय चानना को मिली तो वे अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जैसे ही आरोपित को घेर कर पकड़ने का प्रयास किया। आरोपित ने पुलिस पर बंदूक तान दी, लेकिन पुलिसकर्मियों ने आरोपित को दबोच लिया। इस दौरान आरोपित व पुलिसकर्मियों के बीच में हाथापाई भी हुई। इसमें एक दो आरक्षक मामूली तौर पर चोटिल भी हो गए।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020