Morena News: मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। शादी के लिए बिहार से खरीदकर लाई गई नाबालिग ने वन स्टाप सेंटर पर हुई काउंसलिंग में आपबीती सुनाई तो काउंसलरों की आंखें भी नम हो गई। चंद हजार रुपयों में उसके माता-पिता ने उसे बेच दिया और जो युवक शादी करके लाया वह जबरन शारीरिक संबंध बनाने लगा, मना करने पर उसे पीटा जाता, तरह-तरह से यातनाएं दी जातीं। जांच में पीड़िता के नाबालिग होने की पुष्टि हुई हैं, चाइल्ड लाइन व वन स्टाप सेंटर की रिपोर्ट पर आरोपित भोला जैन पर आज अंबाह थाने में मामला दर्ज होगा।

गौरतलब है कि 30 जनवरी को चाइल्ड लाइन की टीम ने अंबाह के भोला जैन के घर से एक नाबालिग को बरामद किया है। उक्त नाबालिग को बिहार के सेहरसा से भोला जैन शादी करने के लिए खरीदकर लाया था। जिला अस्पताल में हुई जांच में उक्त नाबालिग की उम्र 16-17 साल के बीच बताई गई है।

शनिवार से ही यह नाबालिग मुरैना वन स्टाप सेंटर में भर्ती है, जहां हुई काउंसलिंग में नाबालिग ने बताया कि वह बेहद गरीब परिवार से है। उसके माता-पिता को खाने के लाले हैं और छोटे-भाई बहनों की परवरिश नहीं हो पा रही थी। ऐसे में एक दलाल के माध्यम से भोला जैन उसके घर पहुंचा और माता-पिता ने चंद हजार रुपये में भोला जैन को उसे बेच दिया।

भोला जैन उससे शादी किए बिना ही पत्नी बनाकर रखने लगा। जबरन शारीरिक संबंध बनाने लगा। मना करने पर उसको पीटा जाता। काउंसलिंग में नाबालिग ने अंबाह के शांति नगर में रहने वाली इंदू प्रजापति का नाम बताया है, जो बिहार से लड़कियों को इसी तरह खरीदवाकर लाती है। इंदू प्रजापति भी बिहार की रहने वाली बताई गई है। चाइल्ड लाइन के कार्यकर्ता नितिन शिवहरे ने बताया कि वन स्टाप सेंटर से रिपोर्ट आने के बाद संभवतः गुरुवार को इंदू प्रजापति एवं भोला जैन पर एफआइआर दर्ज करवाई जाएगी।

बार-बार घर बदलने वाली गुड्डी की खोज बनी चुनौती

इधर मुरैना शहर की तालपुरा बस्ती से जुड़े मानव तस्करी व देह व्यापार के मामले में पुलिस को गुड्डी नाम की महिला की तलाश है। उक्त महिला का नाम पहले गुड्डी भदौरिया बताया गया, लेकिन अब उसकी पहचान गुड्डी सिकरवार के तौर पर हुई है। उक्त महिला अंबाह क्षेत्र की रहने वाली है, जो देह व्यापार व मानव तस्करी में लिप्त बताई गई हैं। गुड्डी सिकरवार को ढूंढने में पुलिस को परेशानी इसलिए आ रही है, क्योंकि यह महिला हर डेढ़-दो महीने में अपना मकान बदल देती है। पहले वह बड़ोखर गांव में रहती थी।

उसके बाद तालपुरा गांव में किराए के मकान में पहुंची, जहां से एक महीने पहले मकान खाली करके जा चुकी है। टीआई आशीष राजपूत ने बताया कि गुड्डी सिकरवार की तलाश में एक टीम लगी है। उक्त महिला हाथ आते ही मानव तस्करी के दलाल मुन्नाा सिंह व धौलपुर के उस डॉक्टर तक भी पहुंच जाएंगे, जहां से बच्ची को देह व्यापार के लिए खरीदकर लाया गया था। उक्त बच्ची आरोपित महिला के चंगुल से छूटकर फिलहाल वन स्टाप सेंटर पर रह रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags