Morena Court News: मुरैना,(नईदुनिया प्रतिनिधि)। हड़बांसी गांव में एक ही परिवार के चार लोगों को घेरकर जानलेवा हमला करने के 9 साल पुराने मामले में मंगलवार को जौरा कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए 14 दोषियों को 10-10 साल के कठोर कारावास और सात-सात हजार रुपये जुर्माने की सजा से दंडित किया है।

अभियोजन की ओर से पैरवी करने वाले अपर लोक अभियोजक अनिल कुमार अग्रवाल ने बताया कि 23 अप्रैल 2013 को हड़बांसी गांव निवासी प्रमोद अपने पिता जगदीश शर्मा और मां रामरती शर्मा के साथ सामान खरीदने बाजार जा रहा था। जब वे तीनों गांव में रामबाबू शर्मा के मकान के सामने से गुजर रहे थे। तभी पुरानी रंजिश को लेकर गांव के ही भूरा उर्फ रामजीलाल शर्मा, अशोक शर्मा, परीक्षत शर्मा, मुकेश शर्मा, ब्रह्मजीत शर्मा, अवधेश शर्मा, पवन शर्मा, आशीष शर्मा, राजेश शर्मा, दीपेश शर्मा, महेश शर्मा, रामप्रकाश शर्मा, सरनाम शर्मा और लंकेश शर्मा ने लाठी, फरसा, कुल्हाड़ी, सरिया और डंडाें से हमला बोल दिया। झगड़े की सूचना मिलते ही प्रमोद का चाचा भागीरथ मौके पर पहुंचा और बीच-बचाव करने का प्रयास किया तो आरोपियों ने भागीरथ पर कुल्हाड़ी व फरसा से हमला करके मरणासन्ना कर दिया। बागचीनी पुलिस ने प्रमोद की रिपोर्ट पर सभी 14 आरोपियों के विरुद्ध धारा 307 सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया था। इसी मामले में जौरा न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए सभी 14 दोषियों को सजा सुनाई है। साथ ही फरियादी भागीरथ और जगदीश पुत्र गण रामसिंह शर्मा निवासी हड़बांसी को क्षतिपूर्ति के रूप में 25-25 हजार रुपये की राशि दिए जाने के आदेश दिए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close