Morena Crime News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मुरैना जिले के जाैरा इलाके में भैंस चाेरी करने आए बदमाश काे मां बेटी ने बहादुरी दिखाते हुए पकड़ लिया। पहले ताे दाेनाें ने जमकर चाेर की खबर ली, इसके बाद उसे बांधकर थाने में पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस आराेपित से पूछताछ कर अन्य जानकारी हासिल करने का प्रयास कर रही है।

जौरा निवासी दिलीप राठौर के घर के बाहर बनी झोंपड़ी में भैंस व पड़िया बंधी थीं। साेमवार की सुबह 6 बजे जब घर की महिलाएं एवं पुरुष काम पर लगे हुए थे। इसी दाैरान एक भैंस चाेर घर में दाखिल हाे गया। सर्दी के माैसम में देर तक अंधेरा रहता है, जिसका फायदा उठाकर मवेशी चाेर ने भैंस के खूंटे से खाेलकर हांककर ले जाने का प्रयास किया। इसी दाैरान दिलीप राठाैर की 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाली 13 वर्षईय बेटी तमन्ना की नजर भैंस चाेर पर पड़ गई। उसने तुरंत मां काे जाकर पूरी बात बताई। मां काे जब चाेर के घर में दाखिल हाेने की जानकारी लगी ताे वह बेटी के साथ तुरंत पहुंच गई। दाेनाें ने देखा की चाेर करीब 500 मीटर दूर मवेशियाें काे ले जा चुका है। मां बेटी ने किसी से मदद मांगने की जगह खुद ही हिम्मत दिखाने का निर्णय लिया। इसके बाद दाेनाें ने मिलकर मवेशी चाेर काे घेर लिया। पहले ताे लाठी डंडाे से जमकर चाेर की पिटाई की। इसके बाद भैंस के गले में बंधी रस्सी काे खाेलकर उससे चाेर काे बांध दिया। पहले ताे चाेर काे बस्ती में लेकर आए, इसके बाद अन्य लाेगाें की मदद से उसे थाने ले जाकर पुलिस काे साैंप दिया। भैंस चाेरी करने वाला आराेपित मानसिक विक्षिप्त बताया जा रहा है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local