Morena Ex Minister Bhadana News:मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। हरियाणा के पूर्व मंत्री करतार सिंह भड़ाना एक मामले में बुधवार को मुरैना के न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी कोर्ट में पेश हुए। करतार सिंह भड़ाना पर 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान आचार संहिता का उल्लंघन कर मंदिर पर सभा करने पर मामला दर्ज किया गया था। भड़ाना लोकसभा चुनाव में मुरैना-श्योपुर लोकसभा सीट से बसपा के प्रत्याशी थे। जिस पर उसकी गिरफ्तारी पर वारंट जारी किया गया था। बुधवार को कोर्ट ने इस मामले में उनकी जमानत को खारिज कर उन्हें जेल भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक 2019 में लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े हरियाणा के पूर्व मंत्री करतार सिंह भड़ाना ने सात मई 2019 को चुनावी रैलियों के दौरान नूराबाद क्षेत्र के करह आश्रम पर चुनावी सभा को संबोधित किया। जबकि इस सभा के लिए उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी से किसी तरह की परमिशन नहीं थी। वहीं आचार संहिता संहिता का उल्लंघन कर धार्मिक स्थान पर चुनावी सभा की। इस मामले में बसपा प्रत्याशी करतार सिंह भड़ाना के खिलाफ नूराबाद थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। जिस पर उनके खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन पर धारा 188 व धार्मिक संस्था दुरूपयोग निवारण अधिनियम की धारा सात के तहत मामला दर्ज किया गया। लेकिन इसके बाद भड़ाना न्यायालय में उपस्थित नहीं हुए। जिस पर उनके खिलाफ कई बार वारंट जारी किया गया था। बुधवार को करतार सिंह भड़ाना मुरैना कोर्ट में पेश होने के लिए पहुंचे। जहां उन्होंने जमानत की अर्जी लगाई। लेकिन न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी की अदालत ने धारा सात होने पर उनकी जमानत को खारिज कर दिया। वहीं उन्हें जेल भेजने के आदेश दे दिए। इस मामले में इस जमानत का विरोध एडीपीओ चंचल मोदी ने किया। वहीं अब भड़ाना के वकील ने जिला न्यायालय में जमानत की अर्जी लगाई है। जिस पर संभवतः गुरुवार को सुनवाई की जा सकती है। फिलहाल उन्हें बुधवार को जेल में ही रहना होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close