morena Forest Department News: मुरैना, नईदुनिया प्रतिनिधि। वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे का तबादला नित नए विवाद और चर्चाओं में आता जा रहा है। वन विभाग के अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (एसीसीएफ) ने शुक्रवार को एसडीओ पांढरे का तबादला रुकवाने शासन को नाराजगी भरा पत्र लिखा था। यह पत्र भोपाल पहुंच पाता, उससे पहले ही चंबल घड़ियाल सेंचुरी के डीएफओ अमित निगम ने पांढरे को रिलीव कर दिया। एसडीओ पांढरे का रिलीविंग ऑर्डर छुट्टी के दिन शनिवार की देर शाम निकाला गया है।

मुरैना से लेकर श्योपुर तक रेत और पत्थर माफिया पर लगातार कार्रवाई कर रही पांढरे का तीन महीने में ही विभाग ने मुरैना से उमरिया जिले में तबादला कर दिया है। एसडीओ पांढरे पहले ही अपने विभाग और मुरैना पुलिस पर आरोप लगा चुकी हैं, कि कार्रवाई के दौरान उन्हें इन विभागों का समर्थन नहीं मिला, लेकिन जनता का आक्रोश इंटरनेट मीडिया पर साफ दिख रहा है। इस तबादले से विभाग और शासन की हो रही आलोचनाओं को

देखकर वन विभाग के एसीसीएफ शशि मलिक ने शुक्रवार को एक पत्र शासन को भेजा। पत्र में लिखा, हम रेत माफिया पर शिकंजा कसते जा रहे थे। इसी बीच पांढरे के तबादले से न सिर्फ रेत माफिया का हौसला बढ़ेगा, बल्कि वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों का मनोबल कमजोर होगा। यह पत्र सरकार तक पहुंच पाता इससे पहले ही पांढरे का रिलीविंग आर्डर निकाल दिया गया है। उधर बताया जा रहा है कि एसडीओ पांढरे तबादला रुकवाने के लिए हाईकोर्ट जाने की तैयारी में थी। इसी कारण छुट्टी के दिन विभाग ने उन्हें फोर्सली रिलीव किया है।

वर्जन-

उमरिया के लिए कार्यमुक्त करने का आदेश जारी हुआ है, जो मुझे मिल गया है। एसीसीएफ साहब के तबादला रुकवाने के पत्र के बाद, छुट्टी के दिन रिलीव करने के बारे में मैं कुछ नहीं बता सकती।

श्रद्धा पांढरे, एसडीओ, वन विभाग

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags