फोटो 16ए। एसपी अमित सांघी।

मुरैना। यहां आने से पहले लोगों ने जिले की छवि को काफी खराब बताया था, लेकिन यहां आने पर यहां के हालात अच्छे मिले। यहां के लोग काफी सहयोगात्मक हैं इसलिए उनके 10 महीने के कार्यकाल में कोई भी लॉ इन आर्डर की स्थिति नहीं बनी। साथ ही आशा के विपरीत विधानसभा चुनाव भी शांति से हुए। इसलिए मुरैना हमेशा याद रहेगा। यह बात एसपी अमित सांघी ने नईदुनिया से बातचीत में कही। एसपी सांघी का स्थानांतरण सागर हो गया है।

श्री सांघी ने कहा कि मुरैना का कार्यकाल अविस्मरणीय रहेगा, क्योंकि यहां पर विधानसभा चुनाव कराना काफी मुश्किल माना जाता है। चुनाव शांति से हुए। श्री सांघी ने कहा कि पुलिस बल के सभी साथियों ने भी उनका पूरा सहयोग किया। यही वजह रही कि 10 महीने के कार्यकाल में कोई भी बड़ा लॉ इन आर्डर नहीं हुआ। खासबात यह रही कि इस दौरान अपराधों की संख्या में भी पिछले सालों की तुलना में कमी आई। यह सभी जिले के लोगों व पुलिस बल के कर्मचारियों के सहयोग से ही संभव हो पाया।