पोरसा। नईदुनिया न्यूज

नगर के वार्डों में लोग आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित बने हुए है। लोग जनप्रतिनिधियों व प्रशासन से व्यवस्थाएं जुटाने की मांग करते हैं। लेकिन हर बार अनसुनी कर दी जाती है। जिसके चलते सैकड़ों की आबादी नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। ऐसा ही नगर का वार्ड 10 का ज्ञानचन्द्र का पुरा इलाका हैं, जहां विकास का खाका कभी नहीं खींचा जा सका। जिसकी वजह से यहां के सैकड़ों परिवार मुसीबतों के बीच ही जीवन यापन करने को मजबूर हैं। लोग अब आंदोलन का मन बना रहे है। क्यों कि हर स्तर पर इलाके लोग गुहार लगा चुके है।

गौरतलब है कि नगर के वार्ड 10 ज्ञान चन्द्र का पुरा इलाके में लगभग आधा सैकड़ा परिवारों के लिए अभी तक सड़क, पानी, नाले नालियों जैसी मूलभूत सुविधाएं नहीं जुटाई जा सकी है। आलम यह है कि यहां बारिश के होने के बाद सड़कों से गुजरना भी मुहाल हो जाता है। आलम यह है कि यहां एक भी पक्की नाली नहीं बनाई जा सकी हैं जिसकी वजह से घरों का गंदा पानी भी लोगों द्वारा बनाई गई कच्ची नालियों से ही बाहर निकल पाता है। लेकिन बारिश होने के बाद हालात बिगड़ जाते है। कच्ची नालियों से निकलकर पानी सड़कों पर भर जाता है। लेकिन इसके बावजूद यहां नाला तो दूर की बात पक्की नाली तक नहीं बनाई जा सकी। इसी तरह बिजली के लिए भी रहवासियों को दूर दराज से तार डालकर इंतजाम करना पड़ता है। तब कहीं जाकर घर रोशन हो पाते हैं। पानी के लिए यह इलाका पानी की लाइन से वंचित हैं हैंडपंप व निजी बोरों के जरिए ही पानी की आपूर्ति हो पाती है। खासबात यह है कि पास ही शमसान मौजूद हैं। जहां हर दिन ही लोग पहुंचते है। जिन्हें इसी इलाके से होकर गुजरना पड़ता हैं। लेकिन पक्की सड़क न होने की वजह से उन्हें इसी गंदगी व कीचड़ के बीच से ही शमसान तक पहुंचना पड़ता हैं। परेशानी भुगत रहे इलाके के लोगों ने इस संबंध में नगर पालिका में कई बार शिकायत की है। लेकिन इसके बावजूद यहां के लिए कोई प्रस्ताव नहीं बन सका। पार्षद से भी गुहार लगाई हैं लेकिन पार्षद ने इस इलाके की ओर कभी देखा तक नहीं है।

अब मुरैना तक आंदोलन की तैयारी

मूलभूत सुविधाओं से वंचित ज्ञानचन्द्र का पुरा इलाके के लोग अब आंदोलन की तैयारी कर रहे है। क्यों कि शिकायतों को अनसुनी कर दिया गया। जिसके लिए अब मुरैना पहुंचकर आंदोलन करने की बात कर रहे हैं। बारिश होते ही लोगों का घरों से बाहर निकलना तक मुश्किल हो जाता है। वार्ड में एक बार नगर पालिका अध्यक्ष निरीक्षण करने जरूर पहुंची। लेकिन आश्वासन के अलावा रहवासियों को कुछ नहीं मिल सका। समस्या निराकरण की दिशा में अभी तक पहल नहीं की गई है।

कोई सुनवाई नहीं होती, बच्चों को होती है परेशानी

-वार्ड में अभी तक कोई विकास नहीं हुआ हैं पार्षद ने सुनवाई की नहीं है। बच्चे तक स्कूल जाने के लिए परेशान रहते है। इसके बावजूद यहां नालियां तक नहीं बनाई गई हैं।

रामवती प्रजापति, स्थानीय रहवासी

-यहां ज्यादातर गरीब लोग निवास करते हैं शायद इसलिए सुनवाई नहीं हो रही। कई बार नगर पालिका में शिकायत कर चुके हैं। महज नालियां बन जाए तो बड़ी समस्या का समाधान हो सकता है।

गुड्डी बाई, स्थानीय रहवासी

-परिषद में किसी की भी सरकार हो, पर इस इलाके की ओर किसी ने नहीं देखा। लोग हर दिन सड़क, नाली, पानी के लिए परेशानी भुगतते हैं। सुनवाई हुई नहीं तो अब मुरैना जाकर ही आंदोलन करेंगे।

रामदयाल, स्थानीय रहवासी

-नालियां भी बन गई तो हमें निकलने के लिए रास्ता मिल जाएगा। जिससे लोग निकल तो सकेंगे। अभी तो कच्ची नालियों से पानी निकलता हैं। ि जिनका कोई निकास नहीं हैं पानी खाली प्लॉटों में जमा हो जाता है।

गुड्डी प्रजापति, स्थानीय रहवासी

कथन

-हां ज्ञानचन्द्र का पुरा में परेशानी हैं इसे हम भी समझते है। यहां जल्द ही नाले नालियां व सड़क का निर्माण कराया जाएगा।

बालकृष्ण गौरव, सीएमओ पोरसा।

फोटो,46ए-वार्ड में बनी कच्ची नालियां, 46बी-रामवती प्रजापति, 46सी-गुड्डी बाई, 46डी-रामदयाल, 46ई-गुड्डी प्रजापति