फोटो 2ए- फ्लाई ओवर के पास की खराब सर्विस लेन।

-कंपनी ने कहा-सर्विस लेन निगम ने खराब की है, हम भेज चुके हैं पत्र

-कलेक्टर और चंबल कमिश्नर को पत्र लिखकर कहा निगम पर करें कार्रवाई

मुरैना। खराब सर्विस लेन के चलते हाइवे से ट्रैफिक का गुजरना मुश्किल हो रहा है। सर्विस लेन को बनाने से फ्लाई ओवर निर्माण कंपनी ने साफ इनकार कर दिया है। कंपनी के अधिकारियों का तर्क है कि अक्टूबर तक डामर प्लांट बंद रहते हैं। इसलिए अक्टूबर तक इस सड़क को नहीं बनाया जाएगा। अधिकारियों ने सर्विस लेन में बारिश का पानी जमा होने और नालों के जरिए इस पानी को बाहर न निकाले जा सकने को भी अपनी गलती नहीं माना है। इसके लिए कंपनी नगर निगम को जिम्मेदार ठहरा रही है। कंपनी का आरोप है कि निगम क्षेत्र का गंदा पानी उनके नालों में छोड़ा जा रहा है और शहर का पानी ही सड़कों पर जमा होकर सड़कों को खराब कर रहा है।

यह बोले निर्माण कंपनी के अधिकारी

निर्माण कंपनी के डायरेक्टर हंसमुख पटेल से जब खराब सर्विस लेन के बारे में बात की तो वे नहीं बता सके कि सर्विस लेन को कब तक चलने लायक बना दिया जाएगा। उन्होंने निर्माण कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर प्रबलप्रताप सिंह राजावत से बात करने को कहा। श्री राजावत ने भी खराब सर्विस लेन को लेकर यही जवाब दिया कि वे एक बार सर्विस लेन को बना चुके हैं और अब अक्टूबर तक डामर प्लांट बंद होने के कारण सड़क को दोबारा नहीं बना पाएंगे। उन्होंने सिर्फ गिट्टी के प्रयोग से सड़कों के गड्ढे भरने की बात कही।

यह लगाए निगम पर आरोप

निर्माण कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर प्रबल प्रताप राजावत ने सर्विस लेन खराब होने की वजह नगर निगम को बताया। श्री राजावत ने कहा कि जौरी गांव के तालाब और यहां का गंदा पानी सर्विस लेन पर भरता है। उन्होंने कहा कि नगर निगम हाइवे के नाले में शहर का पानी भी छोड़ती है, जिसकी अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि इसे लेकर एनएचएआई के जरिए वे प्रशासन को पत्र भी लिखवा चुके हैं और जल्दी ही नगर निगम के खिलाफ कार्रवाई भी करवाने वाले हैं।

अपनी गलती को मानने तैयार नहीं कंपनी

सर्विस लेन के निर्माण के बाद से अब तक सर्विस लेन पर जब तक पानी नहीं भरा तब तक सड़क ठीक थी, लेकिन हाल ही में हुई बारिश का पानी जब सर्विस लेन पर जमा रह गया तब सड़कों की हालत खराब होनी शुरू हुई। दरअसल सर्विस लेन के पानी को एनएचएआई के नाले तक पहुंचाने वाले पाइप जाम होने से यह परेशानी हुई। वहीं कंपनी के अधिकारी इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं हैं।

प्रबल प्रताप राजवत, प्रोजेक्ट मैनेजर निर्माण कंपनी से सीधी बात

प्रश्न-सर्विस लेन पर गड्ढे हो गए हैं। रोज जाम लग रहा है। आप लोगों को अच्छी सर्विस लेन क्यों उपलब्ध नहीं करवा पा रहे हैं।

उत्तर- नहीं, ये टाइम पीरियड नहीं है इसका। अभी डामर प्लांट बंद है। अक्टूबर में खुलेंगे, बारिश के बाद। अगर अभी रोड बनाएंगे तो वह फिर उखड़ जाएगी।

प्रश्न- लेकिन टेंडर में तो ट्रैफिक सुगम रखने की सारी अनिवार्यता आपकी थी।

उत्तर- वो तो हम एक बार सर्विस लेन बना चुके हैं। वह फिर से टूट गई है। नगर निगम की वजह से। जौरी तालाब का पानी हमारी सर्विस लेन पर बीएसएनएल के पास जमा हो रहा है।

प्रश्न- सर्विस लेन तो दूसरी तरफ वाली भी खराब है।

उत्तर- इस तरफ भी नगर निगम का सारा पानी हमारी ड्रेन लाइन में आ रहा है, जो उचित नहीं है। सर्विस लेन ठीक करने के लिए गिट्टी डाल रहे हैं। रोजाना यह काम चल रहा है। कलेक्टर को जानकारी दे चुके हैं।

प्रश्न- तो नगर निगम के लिए क्या कर रहे हैं।

उत्तर- उसके लिए हमने कलेक्टर को पत्र लिखा है। एनएचएआई के माध्यम से यह पत्र भेजा गया था। एसडीएम ऑफिस में है यह लेटर। तब से कई एसडीएम भी बदल चुके हैं।