फोटो 5ए-बाजार में लोगों की भीड़।

5बी- तेजेंद्र खेड़ा, व्यापारी।

5सी- राजीव अग्रवाल, व्यापारी।

-धनतेरस से पहले पुष्य नक्षत्र की खरीदी के लिए दिखी भीड़

-मंगलवार शाम साढ़े 4 बजे तक रहेगा नक्षत्र

मुरैना। दशहरा पर्व के बाद धनतेरस से पहले पुष्य नक्षत्र आने से व्यापारियों को अच्छे व्यापार की उम्मीद थी। सोमवार को पुष्य नक्षत्र शुरू हुआ और इसी के साथ बाजार में भीड़ भाड़ भी दिखाई देने लगी। चूंकि नक्षत्र का समय शुरू होने को लेकर ज्योतिषाचार्यों में अलग-अलग मत थे, इसलिए लोग शाम 5 बजे के बाद बाजारों में पहुंचना शुरू हुए। व्यापारियों की मानें तो यह नक्षत्र मंगलवार शाम तक है। इसलिए उन्होंने पहले से ही सारी तैयारियां कर ली थीं।

पुष्य नक्षत्र को नक्षत्रों का राजा माना जाता है। यही वजह है कि इस नक्षत्र में नए और अच्छे कार्यों की शुरुआत करने की सलाह जानकार देते हैं, जिनको कोई नया कार्य शुरू नहीं करना होता वे लोग इस नक्षत्र के दौरान नई चीजें खरीदतें हैं ताकि उनके घर में सुख-संपत्ति का आगमन हो। धनतेरस से पहले दो दिन तक यह नक्षत्र पड़ने के कारण व्यापारियों में पहले से ही उत्साह था। पुष्य नक्षत्र फिर धनतेरस और फिर दीपावली को देखते हुए व्यापारियों ने पहले से ही नए स्टॉक मंगा रखा था, जिसकी बंपर बिक्री हुई।

सोने-चांदी और वस्त्रों की बिक्री अधिक हुई

जो लोग दहशरा पर वाहन नहीं खरीद पाए थे, उन्होंने पुष्य नक्षत्र में वाहनों की खरीदी की। इसके बाद सोने-चांदी की खरीदी हुई। रेडीमेड गारमेंट की दुकानों पर भी लोगों की भीड़ दिखाई दी। इसके अलावा व्यापारी वर्ग ने व्यापार वृद्घि के लिए कार्य स्थल पर लगने वाली गद्दियों के लिए सबसे ज्यादा सफेद चादरों की खरीदी की।

आज सुबह से रहेगी रौनक

सोमवार को दोपहर बाद शुरू हुए पुष्य नक्षत्र के कारण शाम को भीड़ दिखाई दी, लेकिन मंगलवार शाम करीब साढ़े 4 बजे तक यह नक्षत्र होने के कारण व्यापारियों को मंगलवार को सुबह से भी बाजारों में भीड़ भाड़ होने की उम्मीद है।

कथन

दोपहर बाद लोगों की भीड़ बाजार में दिखाई दी। इस बार दो दिन यह नक्षत्र है, इसलिए उम्मीद है कि मंगलवार को लोग अधिक संख्या में बाजार आएंगे। इस नक्षत्र में व्यापारियों द्वारा अपने कार्यस्थल पर बिछाई जाने वाली सफेद चादरों की खरीदी की मान्यता है।

तेजेंद्र खेड़ा, व्यावसाई सदर बाजार

कथन

पहले से ही पुष्य नक्षत्र की तैयारी थी। इस बार मंदी का माहौल है। फिर भी लोगों की बाजार में ठीक-ठाक आमद है। मंगलवार को भी पुष्य नक्षत्र होने से उम्मीद है कि ठीक-ठाक व्यापार हो जाएगा। इसके बाद धनतेरस की भी तैयारी है।

राजीव अग्रवाल, सराफा व्यवसाई

Posted By: Nai Dunia News Network