फोटो 12ए। परीक्षा देते छात्र। फाइल फोटो।

- बोर्ड परीक्षाओं में 80 परीक्षा केंद्र बनाए, परीक्षा केंद्रों पर धारा 144 लागू रहेगी

- बोर्ड परीक्षा केंद्र पर छात्रों को 8ः30 बजे पहुंचना अनिवार्य रहेगा

मुरैना। माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड भोपाल द्वारा बोर्ड परीक्षाएं 1 मार्च से शुरू होंगी। परीक्षाओं में नकल न हो, इसके लिए परीक्षाओं को चुनाव की तरह कराया जाएगा। यानी सुरक्षा व्यवस्था व उड़नदस्ते लगाए जाएंगे। परीक्षा के लिए प्रशासन ने उड़नदस्ते गठित किए हैं। साथ ही छात्रों से कहा है कि परीक्षा प्रारंभ होने के आधा घंटे पूर्व परीक्षा केंद्र पर पहुंचें। बोर्ड द्वारा निर्देशों के तहत परीक्षाएं सुबह 9 बजे से 12 बजे तक सम्पन्ना होंगी। इसके लिए परीक्षार्थियों को 8ः30 बजे परीक्षा भवन में पहुंचना अनिवार्य रहेगा।

मुरैना जिले में बोर्ड परीक्षाओं के लिए 80 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल द्वारा 80 परीक्षा केंद्रों में से अति संवदेनशील परीक्षा केंद्र 45 और संवदेनशील 11 हैं। इस वर्ष हाईस्कूल में नियमित व स्वाध्यायी 32 हजार 546 और हायर सेकंडरी में 25 हजार 383 छात्र-छात्राएं परीक्षाओं में बैठेंगे।

इस तरह होगी पार्किंग परीक्षा केंद्रों पर

केंद्र से 500 मीटर की दूरी पर परीक्षार्थियों के वाहन के लिए पार्किंग रहेगी। स्थानीय प्रशासन की मदद से पार्किंग का फ्लैक्स लगाया जाएगा। दोपहिया व चार पहिया वाहन की दरों का लेख भी होगा। स्थानीय प्रशासन से दो व्यक्तियों की दैनिक आधार पर पार्किंग के लिए लगाया जाएगा।

यह निर्देश दिए हैं केंद्राध्यक्षों व स्कूल प्रबंधन को

- केंद्र की बाउंड्रीवॉल सुरक्षित हों।

- परीक्षा कक्ष के दरवाजे, खिड़की ठीक हों व जाली लगी हो।

- प्रत्येक कक्ष में दीवार घड़ी की व्यवस्था हो।

- पटवारी व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का पर्याप्त सदस्यों का दल सर्चिंग हेतु लगाया जाए, जिसकी मॉनीटरिंग उपस्थिति लेने हेतु राजस्व निरीक्षक को लगाया जाए।

- उक्त दल सुबह 8 बजे तक अनिवार्य रूप से परीक्षा केंद्र पर पहुंचें।

- सुबह 8ः15 बजे से 8ः45 तक लाइन लगवाकर परीक्षार्थियों की तलाशी ली जाए। बिना तलाशी कोई परीक्षार्थी कक्ष में प्रवेश न करने पाए। बेल्ट, स्वेटर आदि भी उतार दिए जाएं।

- तलाशी के दौरान प्राप्त नकल सामग्री को तत्काल जला दिया जाए।

- पेशाब घरों, शौचालयों की तलाशी प्रतिदिन ली जाए। नकल सामग्री हटाई जाए।

- बंद कमरों को सील किया जाए।

- केंद्र के 200 मीटर दूर तक 4 से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठे होने से रोकने के लिए एनाउंस सिस्टम का उपयोग किया जाए।

- केंद्राध्यक्ष सहायक केंद्राध्यक्ष, वीक्षक, कैमरामैन आदि के पास भी मोबाइल नहीं होने चाहिए।

- केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे उपलब्ध हैं। उन्हें भी लगवाना सुनिश्चित किया जाए।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket