फोटो 5ए। जीवाजीगंज में एकत्रित हुई महिलाएं।

मुरैना। जीवाजीगंज में सुबह करीब साढ़े दस बजे करीब एक दर्जन महिलाएं बैठी थीं। सभी गरीब व निम्न तबके से थीं। इनके घरों में राशन खत्म हो गया है। उन्हें किसी ने बताया कि जीवाजीगंज में फ्री राशन बंटने वाला है। इसलिए महिलएं एकत्रित हो गईं। लेकिन उन्हें राशन तो नहीं मिला, लेकिन थोड़ी ही देर में पुलिस का वाहन आया और उसमें महिला पुलिस कर्मियों सहित अन्य पुलिस कर्मी उतरे और डंडे मारकर खदेड़ दिया। ऐसे में महिलाओं को जाना पड़ा, लेकिन उनके लिए राशन पानी का इंतजाम नहीं हुआ। ऐसे में शहर में सैकड़ों मजदूरों के परिवारों के सामने संकट खड़ा हो गया। प्रशासन स्तर से ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की जा रही है, जिससे इन्हें राहत मिलती। ऐसे लोगों को रोजाना कहीं न कहीं पर पुलिस की डांट मिलती है या फिर डंडे।

उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन व कर्फ्यू लगने के दौरान शासन व प्रशासन ने दावा किया था कि किसी भी गरीब व मजदूर को राशन की परेशानी नहीं आने दी जाएगी। उन्हें राशन मुहैया कराया जाएगा। खासबात यह है कि उचित मूल्य पर शहर के लोगों को राशन देने के लिए जो व्यवस्था की गई थी, वह भी फेल हो रही है। ऐसे में रोजाना एक से डेढ़ सैकड़ा लोग कलेक्टोरेट, दीनदयाल रसाई सहित अन्य जगहों पर भटकते हैं, लेकिन उनकी व्यवस्था नहीं हो पाती।

इसलिए भी समस्या

- मजदूर वर्ग के लोगों को वर्तमान हालात में कोई भी व्यक्ति उधार तक देने के लिए तैयार नहीं है। जिससे वे अपने परिवार के लिए राशन खरीद सकें।

- शहर में उचित मूल्य की दुकानें भी खुल नहीं रही हैं। इस वजह से इन लोगों को सस्ती दर पर राशन नहीं मिल रहा है। हालांकि तकरीबन सभी उचित मूल्य की दुकानों पर गरीबों के लिए सस्ता राशन उपलब्ध कराया गया है, लेकिन दुकान संचालक दुकानों को नहीं खोल रहे।

- प्रशासन ने गरीब व मजदूरों को राशन मुहैया कराने के लिए अफसरों को सेक्टर इंचार्ज बनाया है, लेकिन इन अफसरों के फोन नहीं लगते। जिसकी वजह से लोग न तो राशन की डिमांड कर पाते हैं और न ही शिकायत।

इनका कहना है

- गरीबों व मजदूरों के लिए व्यवस्था की गई है। करीब दो हजार क्विंटल गेहूं को पिसवाया गया है। जिससे लोगों को आटा आदि समय पर भेजा जा सके। जैसे ही सूचना मिलती है, वैसे ही राशन आदि की व्यवस्था करा दी जाती है।

प्रियंकादास, कलेक्टर, मुरैना

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना