मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे के मामले में अब राजनीति भी शुरू हो गई है। सुमावली के कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाह ने आरोप लगाए कि रेत माफिया के दवाब में सरकार दो-चार दिन में एसडीओ का तबादला कर देगी। उधर मुरैना दौरे पर आए राज्यसभा सांसद सिंधिया ने कहा कार्रवाई कौन कर रहा है, कौन नहीं, इससे कोई मतलब नहीं। पर अवैध उत्खनन नहीं होना चाहिए।

शुक्रवार की दोपहर न्यू हाउसिंग बोर्ड के बाहर कांग्रेस द्वारा दिए गए धरना प्रदर्शन के बाद कलेक्टोरेट में ज्ञापन देने पहुंचे सुमावली विधायकने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे ईमानदार व साहसी महिला हैं। उन्होंने रेत के अवैध खनन को रोकने की पूरी कोशिश की है। इस दौरान उस पर कई बार हमले हो गए। मुझे सुनने में यह भी आया है कि रेत माफिया से मिले-जुले बड़े-बड़े लोग दो-चार दिन में फोरेस्ट एसडीओ का ट्रांसफर करवा रहे हैं। यह शिवराज सरकार है यह दो नंबर का काम करा रही है, अवैध खनन करवा रही है। यह सबकी मिलीभगत है। मैं शिवराज सरकार को चैलेंज कर रहा हूं, अगर इस महिला अधिकारी को हटाया तो पूरी मुरैना कांग्रेस धरना और विरोध प्रदर्शन करेगी।

कौन कार्रवाई कर रहा मुझे इस पर नहीं जाना,पर अवैध उत्खनन नहीं होना चाहिए : सिंधिया

शुक्रवार को राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया मुरैना के दौरे पर आए। नईदुनिया संवाददाता ने जब उनसे वन विभाग एसडीओ पर हो रहे हमलों प्रशासनिक रुख को लेकर सवाल किया तो सिंधिया ने कहा कि कौन कार्रवाई कर रहा है, कौन नहीं कर रहा मैं इसमें नहीं पड़ना चाहता। मुख्य बात यह है, कि वैध उत्खनन होना चाहिए, अवैध उत्खनन किसी भी सूरत में नहीं होना चाहिए। वैध उत्खनन होगा, तो सरकार को राजस्व भी मिलेगा। सिंधिया से जब पूछा गया कि चंबल नदी में वैध खदान तो है ही नहीं, फिर राजस्व कैसे मिलेगा? इस सवाल को उन्होंने टाल दिया और कहा कि मैंने प्रशासन से बात की है, जल्द ही मुख्यमंत्री से भी बात करूंगा। जो नियम हैं उसी के आधार अवैध उत्खनन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश में इन दिनों चल रहीं मुख्यमंत्री परिवर्तन की बातों को सिंधिया ने अफवाह बताते हुए, कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री तो शिवराज सिंह चौहान हैं और वहीं रहेंगे।

एसडीओ की सुरक्षा के लिए तैनात किए 7 पुलिसकर्मीः

वन विभाग एसडीओ श्रद्धा पांढरे पर लगातार हो रहे हमलों को देखकर एसपी ललित शाक्यवार ने भी चिंता जताई और शुक्रवार की सुबह से एसडीओ की सुरक्षा में 7 हथियारबंद पुलिसकर्मी तैनात कर दिए हैं। पुलिस द्वारा दी गई सुरक्षा टीम में दो एएसआइ, एक प्रधान आरक्षक और चार आरक्षक हैं, जो 24 घंटे एसडीओ पांढरे की सुरक्षा व कार्रवाई में शामिल रहेंगे। उधर देवगढ़ पुलिस ने बुधवार की रात एसडीओ पांढरे व उनकी टीम पर हमला करने वाले 7 नामजद आरोपितों में से तीन सरनाम पुत्र उम्मेद सिंह सिकरवार, भारत सिंह पुत्र लालसिंह सिकरवार और मरिया उर्फ सुरेश पण्डित पुत्र भोलाराम शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags