अंबाह-पोरसा(नप्र)। भारतीय किसान संघ ने प्रदेश के किसानों की निम्न समस्याओं के निराकरण धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। अंबाह में तहसील प्रांगण में एक दिवसीय धरना देते हुए प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम 25 सूत्रीय मांगों का लेकर एसडीएम राजीव समाधिया को ज्ञापन दिया गया। इसी तरह पोरसा में नायब तहसीलदार नरेश शर्मा को ज्ञापन सौंपा।

अंबाह में ज्ञापन सौंपकर मांग रखी गई कि खरीफ की फसलों के अल्प वर्षा अफलन के कारण होने वाले नुकसान की भरपाई की जाए। पूरे प्रदेश में मक्का एवं तिल की समर्थन मूल्य पर खरीदी की जाए। फसल बीमा इकाई का क्षेत्रफल न्यूनतम 100 हेक्टेयर से घटाकर 50 हेक्टेयर किया जाए। प्रदेश में सोसाइटियों में किसानों के शोषण एवं भ्रष्टाचार के मामलों में प्रशासनिक एजेंसी द्वारा जांच कर त्वरित कार्यवाही की जाए।

सोसाइटी में खाद बीज वितरण की व्यवस्था कम्प्यूटरीकृत एवं पारदर्शी बनाई जाए। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में बैंकों द्वारा काटी गई बीमा प्रीमियम कंपनी में जमा प्रीमियम, क्लैम की राशि क्लेम भुगतान फसल कटाई प्रयोग के आंकड़े सहित सभी जानकारियां वेबसाइट पर पारदर्शी तरीके से अपलोड की जाए। बलराम तालाब योजना पुनः शुरू की जाए। इसके साथ ही अन्य मांगें शामिल रहीं। इस मौके पर किसान संघ के प्रांतीय जैविक प्रमुख राजेन्द्र सिंह तोमर, जिला अध्यक्ष अशोक सिंह तोमर, तहसील अध्यक्ष श्यामसुंदर सिंह तोमर, तहसील मंत्री धर्मवीर शर्मा, राजेन्द्र जैन, जितेंद्र गुर्जर, विक्रांत तोमर, अरुण प्रताप सिंह तोमर, सचिन शर्मा, करू शर्मा शामिल रहे।

पोरसा में रखी किसान संघ के अपनी मांगेः

भारतीय किसान संघ ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री एवं तहसीलदार पोरसा के नाम अपनी समस्याओं के संबंध में ज्ञापन नायब तहसीलदार नरेश शर्मा को दिया। भारतीय किसान संघ के संभागीय अध्यक्ष धीरेंद्र सिंह तोमर के नेतृत्व में यह ज्ञापन दिया गया। तहसीलदार के नाम दिए गए ज्ञापन में ग्राम पंचायत रजौधा में पटवारियों की व्यवस्था की मांग की गई। रजौधा ग्राम पंचायत में 42 मजरे है, जिले की सबसे बड़ी पंचायत है। इसमें 3 पटवारियों का होना अति आवश्यक है। इसलिए 3 पटवारियों की नियुक्ति की जाए एवं जो पहुंच मार्ग बने हैं, वह पहुंच मार्ग ज्यादातर लोगों ने अपने-अपने खेतों में जोत लिए उन्हें मुक्त कराया जाए। मुख्यमंत्री के नाम जो ज्ञापन 18 सूत्री दिया गया, जिसमें मांगे मनवाने के लिए निवेदन किया गया। प्रधानमंत्री के नाम जो ज्ञापन दिया गया वह 7 सूत्री मांगों का था। इस अवसर पर ज्ञापन देने वालों में राजेंद्र तोमर, रामपाल तोमर, सत्यवीर सिंह तोमर, रामनरेश सिंह, लोकेंद्र सिंह, नेपाल सिंह, रामेंद्र सिंह, राजवीर सिंह भदोरिया, भूपेंद्र सिंह, हरि सिंह, राघवेंद्र सिंह, संजू सिंह, राजेश सिंह, सुजान सिंह, सत्यवीर सिंह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local