मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। मुरैना के सांसद और भारत सरकार के कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने गरीब, जरूरतमंदों के लिए कंबल भेजे। सांसद ने तो नेक नीयत से हजारों कंबल दे दिए, लेकिन जिन लोगों को कंबल बांटने की जिम्मेदारी दी गई वह इस काम में भी वोटबैंक बढ़ाने की जुगत में जुट गए। यानी यह कंबल जरूरतमंद, बेसहारा या गरीब को नहीं दिए जा रहे, केवल उन लोगों को दिए जा रहे हैं, जिनसे आगामी नगर निगम चुनाव में भाजपा के लिए वोट मिलने की पूरी उम्मीद है। यह कंबल वितरण राजनीतिक गलियारों से लेकर समाजसेवियों में भी चर्चा का विषय बन गया है। अब भाजपा के नेता भी ऐसी व्यवस्था से किनारा करते नजर आ रहे हैं।

गौरतलब है कि लगभग 5 दिन पहले केंद्रीय मंत्री व क्षेत्रीय सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर ने 3000 से ज्यादा कंबल मुरैना शहर में गरीब, बेसहारा, जरूरतमंद व ऐसे लोगों को वितरण करने के लिए भेजे थे, जो इस जानलेवा सर्दी में फुटपाथ, बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन जैसी जगहों पर रह रहे हैं। कायदे से यह कंबल हर जरूरतमंद को बंटने थे, लेकिन इसमें गड़बड़ यह हो गई कि स्थानीय नेताओं ने कंबल वितरण का जिम्मा उन भाजपा नेताओं को दे दिया जो पिछले नगर निगम चुनाव में भाजपा के टिकट पर पार्षद का चुनाव लड़े थे। चाहे यह नेता चुनाव हारे हों या जीतें हों, कंबल वितरण का जिम्मा इन्हीं के पास है। इस कारण यह भाजपा नेता ऐसे लोगों को छांट-छांटकर कंबल दे रहे हैं, जिनसे अगले चुनाव में वोट मिलने की उम्मीद है। ऐसे में हालात ऐसे बन गए हैें कि जिन लोगों को इन कंबलों की जरूरत नहीं उनको भी पर्ची देकर कंबल लेने के लिए भेजा जा रहा है।

जरूरतमंद दरवाजे पर बैठे, दिखा रहे गरीबी की पर्चीः

पूरे कंबलों को चंबल कालोनी में सांसद के कार्यालय पर रखा गया है। यहीं से इनका वितरण होता है। कंबल बांटने के लिए जिन लोगों की ड्यूटी लगी है, वह भाजपा लिखी पर्ची देखकर ही कंबल देते हैं। इस पर्ची पर वार्ड का नंबर व भेजने वाले का नाम रहता है। इसी पर्ची को दिखाने पर कंबल मिलता है। दूसरी ओर ऐसे कई गरीब व बुजुर्ग पहुंच रहे हैं जो अपने साथ बीपीएल राशनकार्ड या फिर गरीब परिवारों में शामिल पात्रता सूची की पर्ची लेकर जा रहे हैं, लेकिन इन्हें घण्टों इंतजार के बाद भी कंबल नहीं मिलते। रविवार को भी ऐसे कई बुजुर्ग व गरीब कंबल लेने पहुंचे जिन्हें क्षेत्र के पार्षद या पूर्व प्रत्याशी के घर जाकर पर्ची लाने की सलाह देकर लौटा दिया गया।

वर्जन

- यह कंबल सांसद ने भेजे हैं और गरीब व जरूरतमंदों को दिए जाने हैं। कंबल वितरण की जिम्मेदारी वार्ड के पूर्व प्रत्याशी या पार्षद को दी गई है, क्योंकि उनके पास गरीब व जरूरतमंदों की सही जानकारी रहती है। अगर यह लोग ऐसा कर रहे हैं तो इन्हें भगवान देखेगा। हम लोग प्रयास कर रहे हैं कि ठण्ड से बेहाल गरीबों को ही कंबल मिले, अगर कोई वार्ड प्रभारी की पर्ची लेकर भी नहीं जाता तो उसे कंबल दिलवाएंगे।

डा. योगेशपाल गुप्ता

जिला अध्यक्ष, भाजपा

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local