मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)।ब्लैकमेलिंग और आत्महत्या के लिए उकसाने प्रकरण में फरार चल रहे रिटायर डीएसपी महेन्द्र कुमार शर्मा और उसकी पत्नी ममता शर्मा पर इनाम घोषित होगा। इसके लिए सिविल लाइन टीआइ ने शनिवार को एसपी आफिस में प्रस्ताव भी भेज दिया गया है।

गौरतलब है कि मुरैना शहर के टीआरपुरम कालोनी में रहने वाले 24 वर्षीय ट्रांसपोर्टर सैंकी उर्फ यतेंद्र सिंह पुत्र रामनरेश सिकरवार ने 15-16 जनवरी की रात में पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले लिखे सुसाइड नोट में सैंकी ने लिखा जिसमें 65 साल के रिटायर डीएसपी महेन्द्र शर्मा और उनकी 52 वर्षीय पत्नी ममता शर्मा पर ब्लैकमेल करने व 20 लाख रुपये के लिए केस में फंसाने की धमकी देने की बात लिखी थी। इस मामले में रिटायर डीएसपी व उसकी पत्नी पर धारा 306, 388 और 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। दोनों की गिरफ्तारी के लिए मुरैना से लेकर ग्वालियर तक में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। मुरैना पुलिस की टीमें ग्वालियर में बिरला नगर स्थित मकान से लेकर इंदौर तक में रिटायर डीएसपी व उसकी पत्नी की खोज कर चुके, पर कहीं सुराग नहीं लगा। ऐसे में सिविल लाइन टीआइ विनय यादव ने आरोपितों पर इनाम घोषित करने का प्रस्ताव भेजा है। गौरतलब है कि रिटायर डीएसपी की पत्नी ममता शर्मा ने भी 12 जनवरी को सैंकी सिकरवार के खिलाफ ग्वालियर के हजीरा थाने में ब्लैकमेलिंग व धमकाने की धाराओं में केस दर्ज करवाया था।

बैक करते समय लोडिंग वाहन ने 10 साल के मासूम को कुचला

मुरैना। जौरा थाना क्षेत्र के रूंद का पुरा गांव में लोडिंग वाहन को बैक करते समय एक बच्चा उसके नीचे आ गया। जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में लोडिंग वाहन चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जानकारी के मुताबिक रूंद का पुरा निवासी आशिक पुत्र बंटी कुशवाह उम्र 10 साल अपने चाचा के साथ गांव में ही न्यचता खाने जा रहा था। इसी बीच एक लोडिंग वाहन क्रमांक एमपी 06 एल 1256 का चालक गाड़ी को बैक कर रहा था। जिसने पीछे आ रहे आशिक को नहीं देखा और गाड़ी आशिक के रूप से निकल गई। जिससे गंभीर रूप से घायल हो गया। स्वजन उसे जौरा अस्पताल के बाद ग्वालियर अस्पताल ले जा रहे थे। जहां रास्ते में आशिक ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने इस मामले में वाहन चालक के खिलाफ के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local