मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। उम्मीदवार चुनाव आयोग की नीति का पालन करें, चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण सम्पन्ना कराने में सहयोग प्रदान करें, आदर्श आचार संहिता का पालन करें। प्रत्येक अभ्यर्थी चुनाव के अधिनियमों का पालन करें। चुनाव नियमों का उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाही की जाएगी। यह बात राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक रविन्द्र कुमार मिश्रा ने सभी आठ नगरीय निकायों के चुनाव लड़ रहे। उम्मीदवारों से टाउन हाल मुरैना में गुरुवार को कही। इस अवसर पर कलेक्टर बी कार्तिकेयन, पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी, जिला पंचायत के सीइओ रोशन कुमार सिंह, नगर निगम कमिश्नर संजीव कुमार जैन, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एलके पांडे, एसडीएम मुरैना शिवलाल शाक्य सहित एमसीएमसी, व्यय लेखा देख रहे अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे।

कलेक्टर बी कार्तिकेयन ने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव में खड़े हुए उम्मीदवारों के लिए व्यय की सीमा आयोग ने निर्धारित की है, जिसके तहत महापौर एवं पार्षद पद उम्मीदवारों को व्यय करने है। उन्होंने कहा कि महापौर पद के लिए व्यय सीमा 15 लाख, नगर निगम मुरैना के पार्षद पद हेतु 3.75 लाख रुपये निर्धारित की है। इसके अलावा नगर पालिका पार्षद पद हेतु एक-एक लाख रुपये और नगर पंचायत के पार्षद को 75 हजार रुपये व्यय की सीमा निर्धारित की है। उन्होंने कहा कि नगर निगम एवं नगरीय निकायों में व्हीएसटी टीम क्षेत्रों में गोपनीय तौर पर भ्रमण कर रहीं है। व्यय की सीमा एवं अन्य गतिविधियों पर निगरानी की जा रही है। उन्होंने कहा कि उम्मीदवार को व्यय पुस्तिका प्रदान की गई है, जिसमें प्रतिदिन का व्यय पुस्तिका में अंकित करना है। चुनाव अवधि के दौरान तीन बार उसका अवलोकन नगर पालिक निगम के हाल में गठित टीम को करना है। प्रत्येक पृष्ठ पर अभ्यर्थी के हस्ताक्षर होना जरूरी है। व्यय लेखा का हिसाब प्रस्तुत न करने पर आयोग के नियमों के तहत आने वाले समय में चुनाव से भी वंचित रखा जा सकता है। कलेक्टर ने कहा कि निर्वाचन आयोग के तहत एमसीएमसी का गठन किया जा चुका है, गठित टीम 24 घंटे प्रिन्ट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, बेव पोर्टल पर पेनी नजर से देख रही है। कोई भी प्रत्याशी किसी भी प्रकार का विज्ञापन जारी करने से पहले विज्ञापन का सर्टिफिकेशन कराएगा, जिसका व्यय संबंधित के खाते में जोड़ा जाएगा। कलेक्टर ने कहा पेड न्यूज अगर पैसे देकर छपवाई गई है, उसका भी एमसीएमसी अवलोकन करेगी, पेड न्यूज पाए जाने पर संबंधित प्रत्याशी को नोटिस जारी किया जाएगा।

निकाय चुनाव में गड़बड़ी की तो एफआइआर होगी और मकान पर चलेगा बुलडोजरः एसडीएम

निकाय चुनावों को लेकर गुरूवार को एसडीएम राजीव समाधिया ने सभी प्रत्याशियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि निकाय चुनाव में सभी के सहयोग की जरूरत है। अगर कहीं भी कोई गडबड़ी करता है तो उस पर एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। इसके साथ ही मकान पर बुलडोजर चलेगा सो अलग। उन्होंने कहा कि सभी को पता है कि 70 से 80 प्रतिशत मकान बिना अनुमति के है। अगर उपद्रव में पकड़े गए तो मकान पर बुलडोजर ही चलेगा। उन्होंने कहा कि हम आपका पूरा सहयोग करेंगें। इसलिए शांति पूर्ण मतदान में आपका भी सहयोग चाहिए। उन्होंने महिला प्रत्याशियों से भी कहा कि अगर एफआइआर हुई और जेल गई तो मायके में भी मुंह नहीं दिखा पाऐंगी। इसलिए अपने स्वजन व समर्थकों से कह दें कि किसी तरह के उपद्रव से दूर ही रहें।

सबलगढ़ में तहसीलदार ने ली बैठकः

नगरीय निकाय चुनाव के लिए गुरुवार को तहसीलदार मनीषा कौल ने सभी प्रत्याशियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने सभी प्रत्याशियों को चुनाव के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सभी प्रत्याशी पांच हजार रुपये तक का ही नकद भुगतान कर सकते है। इससे ऊपर का भुगतान आनलाइन या चेक के जरिए ही भुगतान किया जाएगा। हर प्रत्याशी को खर्चा पुस्तिका दी गई है। उसका तीन बार आडिट किया जाएगा। जिसके लिए दो अधिकारी नियुक्त कर दिए गए हैं। अगर खर्चा निर्धारित सीमा में किया जाए। किसी भी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले भाषण न दें और न चुनावी सामग्री में धार्मिक चिन्हों का इस्तेमाल न करें। वहीं बिना किसी अनुमति के किसी भी मकान दुकान पर प्रचार सामग्री चस्पा न कराएं। अगर शिकायत आती है तो उसे हटाने में जो खर्चा आएगा उसे प्रत्याशी के खर्च में जोड़ा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close