मुरैना। नईदुनिया प्रतिनिधि

गल्ला व्यापारी ने अपने कारोबार के लिए एक सराफा कारोबारी के यहां एक किलो सोने के गहने गिरवी रखकर 40 लाख रुपये उधार लिए। दो महीने बाद उधार की रकम लौटा दी, लेकिन सराफा व्यवसायी ने सोने के गहनों की बजाय 88 किलो नकली चांदी पकड़ा थी। एक किलो सोने व 40 लाख रुपये की ठगी का यह हैरतअंगेज मामला सोमवार को कोतवाली थाने में पहुंचा है। पीड़ित गल्ला व्यापारी की शिकायत पर सराफा कारोबारी, उसकी पत्नी, बेटे व दो भाईयों पर केस दर्ज किया गया है।

नैनागढ़ रोड, मयूर टाकीज के सामने रहने वाले नितिन पुत्र नरेश गुप्ता भाजपा के पदाधिकारी व गल्ला व्यापारी हैं, उन्होंने कोतवाली थाने में एफआइआर दर्ज कराते हुए बताया, कि गल्ला व्यापार के लिए रुपयों की जरूरत थी, इसीलिए घर में रखे एक किलो सोने के गहनों को राधा ज्वेलर्स के संचालक अंकुश गोयल के यहां 27 दिसंबर 2021 को गिरवी रखा और बदले में 40 लाख रुपये उधार लिए थे। बकौल नितिन गुप्ता, उसका व्यापारी ठीक चल गया तो दो महीने बाद फरवरी में ही उसने 40 लाख रुपये सराफा कारोबारी अंकुश गोयल को उसकी पत्नी मंजू, बेटे सोनू, दो भाई विवेक व विक्की गोयल के सामने लौटा दिए। रुपये लौटाने के बाद अपने एक किलो सोने के गहने वापस मांगे तो अंकुश गोयल ने बताया कि गहने आगरा में रखे हैं, वहां से आने में आठ-दस दिन का समय लग जाएगा। इसके बाद सराफा कारोबारी अंकुश गोयल ने अपने घर में रखी 80 किलो रवाली चांदी (चांदी के छोटे-छोटे मोती) गल्ला व्यापारी नितिन गुप्ता को दिए और कहा कि जब तक तुम्हारा एक किलो सोना नहीं आ जाए तब तक यह 80 किलो चांदी रख लो, यह तुम्हारे एक किलो सोने से ज्यादा महंगी है। नितिन गुप्ता ने 40 लाख रुपये देने के बाद बोरे में भरी 80 किलो रवाली चांदी अपने पास रख ली। चार महीने तक वह चांदी को लौटाकर अपने सोने के गहने लेने के लिए कई बार सराफा कारोबारी के पास गया, लेकिन कभी सराफा करोबारी की पत्नी तो कभी भाईयों ने कोई न कोई बहाना बनाकर उसे लौटा दिया। पीड़ित नितिन गुप्ता के अनुसार वह 15 जून को चांदी को लेकर अंकुश गोयल के घर पहुंचा तो उसके घर ताला लगा मिला।

जांच कराई तो तांबे पर चांदी की परत निकली

नितिन गुप्ता ने पुलिस को बताया है, कि अंकुश गोयल अपनी पत्नी व बच्चे के साथ घर पर ताला लगाकर गायब हो गया, उसके बाद भी सराफा करोबारी के भाई विवेक व विक्की गोयल ने कई दिन तक उसे बातों में उलझाए रखा और झांसा देते रहे कि वह उन्हें वापिस बुला रहे हैं। जब नितिन को गड़बड़ लगी तो वह चांदी के कुछ मोतियों की जांच करवाने के लिए एक सराफा कारोबारी की दुकान पर ले गए। जांच में पता चला कि यह मोती तांबे के बने हैं, जिन पर चमकीली चांदी की परत चढ़ी हुई है। यह पता लगते ही गल्ला व्यापारी सीधे थाने आया। जिसकी शिकायत पर सराफा कारोबारी अंकुश गोयल, उसकी पत्नी मंजू, बेटे सोनू गोयल के अलावा दोनों भाई विवेक व विक्की पर धोखाखड़ी व अमानत में खयानत की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने नकली चांदी को भी जब्ती में ले लिया है, जिसका वजन 87 किलो 800 ग्राम बताया गया है।

वर्जन

- इस मामले में पीड़ित की शिकायत पर एफआइआर दर्ज हो चुकी है। जो 87 किलो 800 ग्राम चांदी बताई जा रही है वह तांबा है, जिस पर चांदी की परत चढ़ी है। आरोपित सराफा कारोबारी अभी फरार है। इस मामले में छानबीन शुरू कर दी है।

योगेंद्र सिंह जादौन

टीआइ, कोतवाली

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close